Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

सेक्स एजुकेशन’ के वक़्त रखे इन बातों का ध्यान

बेशक ही हम अपने को मॉडर्न मानते हों। लेकिन जब 'सेक्स एजुकेशन' की बात होती है तो आज भी हम लोग नज़रें चुराने लगते हैं। लेकिन अब धीरे-धीरे जागरूकता बढ़ रही है फिर भी कुछ लोग 'सेक्स एजुकेशन' को समाज के लिए जरूरी नहीं मानते।

वैसे तो सरकार द्वारा पाठ्यक्रम में 'सेक्स एजुकेशन' और 'रिप्रोडक्टिव सिस्टम' जैसे टॉपिक्स को शामिल करने का निर्देश दिया गया है, लेकिन विद्यालयों में हमारे टीचर्स ऐसे टॉपिक को पढ़ाने में झिझकते हैं और अक्सर इस पाठ को स्किप कर जाते हैं। कई बार सुनने में आता है की शिक्षक छात्रों को बोलते हैं की इस पाठ का घर पर स्वाध्याय कर लेना. दुर्भाग्यवश  उम्र के इस पड़ाव पर बच्चे जरुरी शिक्षा से बंचित रह जाते हैं. हालाँकि आजकल  इन्टरनेट पर इस सम्बन्ध में जानकारी उपलब्ध है, इसलिए बंदा वहाँ जाकर जानकारी हासिल करने की कोशिश करता है, जो हमेशा सेक्स एजुकेशन का एक सही विकल्प नहीं हो सकता है ।

सावधान अगर आप इन्टरनेट से 'सेक्स एजुकेशन' से सम्बंधित लेसंस लेने चाहते हैं तो इससे पहले ये बातें जरूर ध्यान में रखें

'सेक्स एजुकेशन' की आवश्यकता को समझना जरूरी है

अपने शारीर के अंगो और उसके कार्यक्षमता को सही से समझना कोई गलत बात नहीं . बल्कि या आपके मन में पल रहे कई तरह के भ्रांतियों को दूर कर गलतियों और बिमारियों से बचाता है .साथ ही यह आपको खुद को बेहतर तरीके से समझने में मदद भी करता है

इन्टरनेट बन रहा है  सेक्स एजुकेशन का टूल

इन्टरनेट जानकारी और इनफार्मेशन का खजाना है. इन्टरनेट पर हर तरह की जानकारी मौजूद है . सेक्स एजुकेशन सम्बंधित जानकारी भी इन्टरनेट के मदद से प्राप्त की जा सकती है लेकिन इन जानकारियों के ग्रहण करते समय कुछ समझदारी की भी जरुरत है. क्योंकि इन्टरनेट पर हर तरह की इनफार्मेशन teenagers को भटका भी सकती है और वो नादानी में कुछ गलत सीख सकते हैं .

सभी के लिए बेहतर है कि इन्टरनेट से सेक्स के बारे में पढ़ते वक़्त कुछ जरुरी बातें ध्यान में रखें, ताकि केवल सही जानकारी हाथ लगे

आपका शरीर और आपकी जरूरतें दोनों ही अलग हैं

जैसा की हम जानते हैं इन्टरनेट पर जानकारी एक सामान्य आधार पर दी जाती है . सभी व्यक्ति की शारीरिक जरूरतें भिन्न भिन्न हैं. इसलिए जरुरी नहीं कि इन्टरनेट पर दी गयी सभी जानकारी और बातें आप पर भी लागू हो।

बीमारियों के सम्बन्ध में चिकित्सक से परामर्श लेना  जरुरी

कई बार ऐसा होता है कि हमें अपने बारे में कोई बात असामान्य सी लगती है और हमारी जिज्ञासा होती है कि कहीं ये किसी बीमारी के लक्षण तो नही हैं। सेक्स से कई बीमारियां संक्रमित होती हैं। इन्टरनेट पर ब्राउज़िंग करते और जानकारी हासिल करने पर हमें भले ही केस स्टडीज़ मिल जाये, पर इस पर बिना सोचे समझे विश्वास करने से बेहतर है कि डॉक्टर से परामर्श करें।

अपने मन में उठने वाले सवालों को लेकर हिचकिचाये नहीं

आजकल इन्टरनेट की दुनिया में कई एक्सपर्ट ऑनलाइन भी सलाह देते हैं। लेकिन कई बार हमलोग  अपनी समस्या के बारे में बताने में शर्माते हैं और इसकारण पूरी बात नहीं कह पाते हैं। ऐसा करने से  हमारा ही नुकसान होता है। अपने शरीर को और उसकी समस्याओं को हम ही बेहतर तरीके से जानते हैं, इसलिए सेक्स सम्बन्धी समस्यावों में खुलकर बोलें और समस्या का सही समाधान पाएं।

इन्टरनेट पर सेक्स सम्बन्धी जानकारी की वैधता जांचे

इन्टरनेट पर किसी भी एक विषय पर जानकारियों का भंडार है. यहाँ आप एक सवाल के हजारों जवाब पा सकते हैं । इसलिए यह आपके हित में होगा कि किसी एक जवाब को पढ़कर संतुष्ट ना हों। अपितु कुछ अन्य वेबसाइट्स से भी जानकारी  प्राप्त कर लें, आपको इसकी वैधता का पता चल जाएगा।

यौन शिक्षा के सम्बन्ध में किसी समझदार इंसान से जानकारी लेना ही बेहतर विकल्प

इन्टरनेट तो यौन शिक्षा  के लिए सहज  विकल्प साबित हो सकता है, लेकिन १०० % सही जानकारी की गारंटी नहीं दे सकता . इसलिए सही  यही है कि आप अपने बड़ों या किसी समझदार इंसान से 'सेक्स एजुकेशन' लें। पेरेंट्स के लिए भी जरूरी है कि वो ध्यान रखें कि उनके बच्चों को 'सेक्स एजुकेशन' के लिए इन्टरनेट की जरूरत कम ही पड़े।

sex education important thingसेक्स एजुकेशन' के वक़्त रखे इन बातों का ध्यान

The post सेक्स एजुकेशन’ के वक़्त रखे इन बातों का ध्यान appeared first on Remarkable Information in Hindi - Dishanirdesh.



This post first appeared on धनतेरस पूजा विधि, please read the originial post: here

Share the post

सेक्स एजुकेशन’ के वक़्त रखे इन बातों का ध्यान

×

Subscribe to धनतेरस पूजा विधि

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×