Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

Heart Attack Details in Hindi | हृदयाघात क्‍या है?

Heart Attack details in Hindi, हृदयाघात (हार्ट अटैक), दिल का दौरा जिसे medical science में रोधगलन (Myocardial Infarction) कहते हैं । Heart Attack जैसा की इसके नाम से ही प्रतीत हो रहा है की यह ह्रदय यानि की दिल से जुड़ी गंभीर स्वास्थ्य समस्या हैं । इस लेख के माध्यम से हम आपको Complete Heart Attack details in Hindi, के बारे में बताने जा रहे हैं ।

Heart Attack Details in Hindi




Heart Attack details in Hindi जानने से पहले हम ह्रदय के बारे में संक्षिप्त जानकारी ले लेते है । हृदय सभी जीवो में पाया जाने वाला एक महत्वपूर्ण अंग हैं जो की शरीर के वक्ष भाग में थोड़ा बाईं ओर अधर तल की ओर स्थित रहता है । यह हमारे जीवन को सुचारू रूप से चलाने के लिए पूरे शरीर में आवश्यक ऑक्सीज़न,पोषक तत्वों और रक्त की आपूर्ति करता हैं ।

हृदय की क्रियाविधि
हृदय शरीर के अंगों में रुधिर को पम्प करने का कार्य करता है । हृदय शरीर के विभिन्न भागों में शुद्ध रक्त भेजता है तथा विभिन्न भागों से अशुद्ध रक्त ग्रहण करता है। इस कार्य हेतु हृदय हर समय फैलता तथा सिकुड़ता रहता है । जिसे दिल का धड़कना तथा दिल का स्पंदित होना कहते हैं
मनुष्य का हृदय स्पंदन दर एक मिनट में 70-80 बार तथा प्रर्त्येक दिन 100,000 बार स्पंदित होता है । यह हर मिनट, लगभग 5 से 6 क्वार्ट और प्रतिदिन 2,000 गैलन रक्त पम्प करता है।

हृदय की संरचना
एक स्वस्थ मनुष्य का हृदय का भार लगभग 300 ग्राम, size लगभग 13 सेमी लम्बा तथा 9 सेमी चौड़ा और रंग गहरा लाल या बैंगनी होता है । सामान्यतः इसका आकार बन्द मुट्ठी के समान होता है।

Heart Attack information in Hindi

हृदयाघात को मायोकार्डियल इन्फार्क्शन या कोरोनरी थ्रोम्बोसिस भी कहते हैं । शरीर में नियमित रक्त संचार बनाये रखने के लिए हमारा दिल किसी पंप की तरह काम करते हुए एक दिन में एक लाख बार धड़कता है।इस पंप को सदैव चालू रखने के लिये इसमे खून की सप्लाई एक अलग रक्त वाहिका के द्वारा होती हैं, जिसे कोरोनरी आरटेरी (Coronary Artery) कहते हैं।

समय के साथ कोरोनरी आरटेरी (Coronary Artery) की दीवारो पर चिकनाई जमती रहती है। कैलशियम और अन्य चीज भी उस चिकनाई में जमा होते रहते हैं, उस जमाव को पलाक (Plaque) कहते हैं। पलाक (Plaque) के कारण कोरोनरी आरटेरी का अंदर का व्यास कम हो जाता है, इस कारण दिल के विभिन्न भागों को खून कम मिलता है और दिल सही तरह से काम नहीं कर पाता है।
जब पलाक (Plaque) की वज़ह से कोरोनरी आरटेरी (Coronary Artery) में रक्त प्रवाह रुक जाता है तो दिल में खून की सप्लाई बंद हो जाती है। इसे दिल का दौरा या हार्ट अटैक (Heart attack) कहते हैं।

Heart Attack आने पर क्या करे

☆ मेडिकल हेल्प के लिए कॉल करे अथवा किसी नजदीकी चिकित्सक से तुरंत संपर्क करे । पीड़ित को डॉक्टर तक पहुँचने से पहले नीचे दिए गए step को follow करे
☆ पीड़ित को सीधा लेटने के लिए कहें और उसके कपड़ों को ढीला कर दें।
☆ हवा आने की जगह छोड़ दें और पीड़ित को लंबे सांस लेने के लिए कहें।
☆ अगर व्यक्ति को सांस नहीं आ रही, तो उसे ऑक्सीजन देने की कोशिश करें।
☆ पीड़ित के दोनों पैरों को उठा दें, ताकि हृदय तक ब्लड सप्लाई को सही किया जा सके।
☆ अगर पीड़ित को उबकाई आ रही है, तो उसे एक तरफ मुड़कर उल्टी करने को बोलें, ताकि शरीर के अन्य भागों जैसे लंग्स आदि में न जा सके।
☆ पल्स रेट बहुत ज्यादा कम हो जाने पर पेशेंट के चेस्ट पर हथेली से दबाब देने से थोड़ी राहत जरूर मिलती है लेकिन गलत तरीके से हार्ट को प्रेस करने में प्रॉब्लम और भी बढ़ सकती है इसलिए इसके लिए विशेष अभ्यास की जरूरत होती है ।
☆एस्प्रिन ब्लड क्लॉट रोकती है इसलिए हार्ट अटैक के पेशेंट को तुरंत एस्प्रिन या डिस्प्रिन खिलानी चाहिए. लेकिन कई बार इनसे हालात और भी ज्यादा बिगड़ जाते हैं इसलिए एस्प्रिन या डिस्प्रिन देने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर ले लेना चाहिए ।

Heart Attack आने पर क्या न करे

☆ दिल की धड़कन जाने बिना थम्पिंग और पंपिग (दबाव और जबरदस्ती) करने से परहेज करना चाहिए।
☆ पीड़ित को ऐसे में कुछ खिलाने की कोशिश न करें ।
☆ पीड़ित को कतई घेर कर न रखे । जिससे की उसे ऑक्सीजन लेने में परेशानी हो




हमारे द्वारा प्रकशित इस लेख ” Like & Share “ करना न भूले जिससे की हमारी यह जानकरी ज्यादा से ज्यादा जरूरतमंदों तक पहुँचे । हमारे इस प्रयास में भागीदारी बने धन्यवाद !

गर्भधारण से जुड़े लेख

☛ संतान और गर्भधारण प्राप्ति के खास उपाय एवं टोटके
☛ गर्भधारण करने के लिए बेस्ट सेक्स पोजीशन
☛ अनचाहे गर्भ से बचने के लिए सेक्स पोजीशन
☛ 18+ गर्भावस्था के शुरुआती लक्षण व संकेत
☛ 11+ घरेलू प्रेगनेंसी टेस्ट के तरीके
☛ गर्भावस्था के दौरान यौन संबंध बनाना सुरक्षित हैं या नहीं
☛ गर्भावस्था में भ्रूण किस प्रकार विकसित होता है
☛ लड़कियों में कब और कैसे शुरू होता है पीरियड
☛ गर्भधारण के दौरान सावधानियॉ
☛ प्रेगनेंसी में क्या खाना चाहिए

शीघ्रपतन से जुड़े लेख

☛ शीघ्रपतन क्या है
☛ शीघ्रपतन के कारण
☛ शीघ्रपतन होने के लक्षण व संकेत
☛ 30 से भी ज्यादा शीघ्रपतन के घरेलू इलाज

The post Heart Attack Details in Hindi | हृदयाघात क्‍या है? appeared first on Healthnuskhe.com.



This post first appeared on Health Nuskhe | Gharelu Nuskhe | Beauty Tips In Hi, please read the originial post: here

Share the post

Heart Attack Details in Hindi | हृदयाघात क्‍या है?

×

Subscribe to Health Nuskhe | Gharelu Nuskhe | Beauty Tips In Hi

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×