Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

शादी के सालभर बाद ही बोनी कपूर को गालियां देने लगी थीं श्रीदेवी…घर से भगा दिया था

बोनी कपूर 63 साल के हो गए हैं। 11 नवंबर 1955 को मेरठ में जन्मे बोनी 22 साल में पहली बार श्रीदेवी के बगैर अपना जन्मदिन मना रहे हैं। 24 फरवरी 2018 को दुनिया से अलविदा हो गईं श्रीदेवी से बोनी ने 1996 में शादी की थी। दोनों की लव मैरिज थी।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि शादी के बाद एक बार श्रीदेवी बोनी कपूर से जमकर नाराज हो गई थीं। वह भी तब, जब उनकी शादी को सालभर भी नहीं हुआ था। इस घटना का जिक्र 1997 में पॉपुलर मैगजीन स्टारडस्ट के एक आर्टिकल में किया गया था। आर्टिकल के मुताबिक, 1996 में मंदिर में शादी करने के बावजूद श्रीदेवी बोनी के घर में मिस्ट्रेस की तरह रह रही थीं। जबकि बोनी की पहली पत्नी मोना अब भी उनकी लीगल वाइफ थीं। श्रीदेवी को यह बहुत बुरा लग रहा था। एक दिन जब बोनी अपनी पहली पत्नी मोना से मिले और बच्चों (अर्जुन और अंशुला) को घुमाने ले गए तो श्रीदेवी भड़क गईं। उन्होंने बोनी को गालियां सुनाते हुए कहा, तुम…तुम मेरे साथ ऐसा कैसे कर सकते हो। अगर तुम्हे तुम्हारे बच्चों से इतना ही प्यार है तो क्यों नहीं उनके साथ उसी घर में शिफ्ट हो जाते।

घर मेरे घर से निकल जाओ उनके साथ ही रहो। स्टारडस्ट ने एक पड़ोसी के हवाले से लिखा था, श्रीदेवी को समझना चाहिए था कि बोनी का थोड़ा-बहुत अटैचमेंट अपने बच्चों के साथ हो सकता है। अगर वे उनसे मिलते हैं या उन्हें पिकनिक पर ले जाते हैं तो इसमें गलत क्या है? आखिर वे उनके पिता हैं। हालांकि, दूसरे कुछ पड़ोसियों ने कहा था, “बोनी को श्रीदेवी के बारे में सोचना चाहिए था। उन्हें उनकी इनसिक्युरिटीज को समझना चाहिए था। आखिर वे अपनी शादी के अवैध होने की स्थिति से गुजर रही हैं।

बोनी श्रीदेवी के प्यार में तभी पड़ गए थे, जब वे 1970 के दशक में तमिल फिल्में किया करती थीं। फिर श्रीदेवी की डेब्यू हिन्दी फिल्म ‘सोलहवां सावन’ (1978) रिलीज हुई और इसे देखकर बोनी इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने तय कर लिया कि वे बतौर प्रोड्यूसर श्रीदेवी के साथ फिल्म बनाएंगे। एक दिन बोनी श्रीदेवी से मिलने उनकी फिल्म के सेट पर पहुंचे। तब श्रीदेवी ने बताया कि उनका काम उनकी मां देखती हैं। जब बोनी अपनी होने वाली सास से मिले तो उन्होंने कहा कि श्रीदेवी फिल्म ‘मि. इंडिया’ में काम तो कर सकती हैं, लेकिन उनकी फीस 10 लाख रुपए होगी। बोनी ने जवाब दिया कि वे 11 लाख रुपए देंगे। श्रीदेवी की मां खुश हुईं और इस तरह बोनी कपूर को अपने प्यार के करीब आने का मौका मिल गया। लेकिन अभी भी बोनी की मंजिल दूर ही थी। क्योंकि श्रीदेवी कथिततौर पर मिथुन चक्रवती के प्यार में थीं।

जब मिथुन से श्रीदेवी का अलगाव हो गया तो बोनी ने उनसे नजदीकियां बढ़ानी शुरू कर दी। इस कहानी में अहम मोड़ तब आया, जब श्रीदेवी की मां बहुत बीमार हुईं और उनका अमेरिका में इलाज चला। इस दौरान बोनी कपूर ने श्रीदेवी का मानसिक, भावनात्मक और आर्थिक रूप से सहयोग किया। उनकी मां का कर्ज भी बोनी ने चुकाया। श्रीदेवी उनके इस समर्पण से बेहद प्रभावित हुईं और उन्होंने बोनी के प्रपोजल को ‘हां’ कह दिया। श्रीदेवी ने 1996 में अपने फैन्स और फिल्म इंडस्ट्री के लोगों को चौंकाते हुए कहा कि उन्होंने अपने से 8 साल बड़े उम्र के बॉलीवुड प्रोड्यूसर बोनी कपूर के साथ शादी कर ली। कहा जाता है कि श्रीदेवी यह शादी टालना चाहती थीं, लेकिन कुछ ऐसा हुआ कि उन्हें यह शादी करनी ही पड़ी। मीडिया में उस समय चली खबरों के अनुसार जब श्रीदेवी की शादी फिल्म प्रोड्यूसर बोनी कपूर से हुई, उस दौरान वह प्रेग्नेंट थीं। बाद में उनकी दो बेटियां जाह्नवी और ख़ुशी कपूर हुईं।

2007 के एक इंटरव्यू में मोना ने बोनी के साथ अपने रिलेशनशिप पर खुलकर बात की थी। उन्होंने कहा था, “बोनी के साथ मेरी अरेंज मैरिज हुई थी। वे मुझसे 10 साल बड़े थे। “जब मैंने उनसे शादी की, तब मेरी उम्र 19 साल थी। हमारी शादी 13 साल पुरानी थी। यही वजह है कि जब मुझे पता चला कि मेरे हसबैंड किसी और से प्यार करते हैं तो धक्का लगा।” मोना ने इंटरव्यू में आगे कहा था, “दूसरे रिलेशनशिप के बारे में सिर्फ पढ़ा और सुना था। लेकिन जब यह मेरे साथ हुआ तो हर पॉइंट पर शादी ख़त्म हो चुकी थी। मेरे लिए प्यार से पहले सम्मान था। बोनी को अब मेरी नहीं किसी और की जरूरत थी। दूसरा मौका देने के लिए रिश्ते में कुछ भी नहीं बचा था। क्योंकि श्रीदेवी प्रेग्नेंट हो चुकी थीं। उनका रिश्ता कायम हो चुका था। मेरा इससे बाहर निकलना ही बेहतर था।”

मोना ने इस इंटरव्यू में कहा था कि वह दौर बच्चों के लिए भी बहुत बुरा था। उन्होंने बताया था, “बेटा अर्जुन और बेटी अंशुला तब स्कूल में थे। दुनिया बड़ी जालिम है। जब आप पर बुरा समय आता है तो दुनिया आपके बारे में कयास लगाने लगती है, डिस्कस करने लगती है। स्कूल में मेरे बच्चों को भी क्लासमेट्स के बुरे-बुरे तानों का सामना करना पड़ा। लेकिन वे स्ट्रॉन्ग बने और फैक्ट्स को फेस किया।” मोना ने कहा था, “बच्चे मेरे साथ रहते हैं। लेकिन वे अपने पापा के करीब भी हैं। वे उनके साथ घूमते हैं, खाते हैं। मेरे मन में अपने पति को लेकर कोई दुर्भावना नहीं है। अगर मैं बच्चों को उनसे दूर रखती हूं तो मैं बेरहम मां कहलाउंगी। क्योंकि मैं उनकी कमी पूरी नहीं कर सकती। मुझे एक आदमी की तरह सोचना नहीं आता। मैं उन्हें खुश देखना चाहती हूं।” मोना शौरी ने 25 मार्च 2012 को दुनिया को अलविदा कह दिया था। उनका निधन मुंबई के हिंदुजा अस्पताल में कैंसर के चलते हुआ था। मोना अपने बेटे अर्जुन की पहली फिल्म ‘इशकजादे’ देखना चाहती थीं।

The post शादी के सालभर बाद ही बोनी कपूर को गालियां देने लगी थीं श्रीदेवी…घर से भगा दिया था appeared first on Live Bavaal.

The post शादी के सालभर बाद ही बोनी कपूर को गालियां देने लगी थीं श्रीदेवी…घर से भगा दिया था appeared first on Live India.



This post first appeared on विराट कोहली ने शहीदों के नाम की जीत, please read the originial post: here

Share the post

शादी के सालभर बाद ही बोनी कपूर को गालियां देने लगी थीं श्रीदेवी…घर से भगा दिया था

×

Subscribe to विराट कोहली ने शहीदों के नाम की जीत

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×