Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

लड़की ने लड़की को पाने के लिए पार की सारी हदें, ऐसा ड्रामा जिसे सुन पैरों तले जमीन खिसक जाएगी

New Delhi: प्यार एक ऐसा अहसास है, जिसे पाने के लिए इंसान किसी भी हद तक जा सकता है। कुछ ऐसी ही अनोखी कहानी ताज नगरी आगरा में देखने को मिली।

यहां दो सहेलियों की अनोखी प्रेम कहानी सुनकर हर इंसान हैरान है। कॉलेज के दिनों से ही इन दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गई थी और दोनों ने जीने-मरने की कसमें भी खा लीं। इसके बाद दोनों ने जाति और धर्म की दीवार तोड़कर पिछले दिनों अंबेडकर जयंती के दौरान सामूहिक विवाह सम्मेलन से शादी कर ली। बौद्ध धर्म की विधि से शादी करके घर से अलग रहने लगीं। आज सुबह जब दोनों की हकीकत सामने आई तो परिवार के लोगों ने काफी हंगामा किया, मगर अभी वो साथ रहने पर अड़ी हुई हैं।

ये कहानी है टेडी बगिया के सोनी उर्फ कार्तिक और प्रीति नाम की युवती की है। इन दोनों की मुलाकात इलाके में ही हुई। प्रीति एक स्कूल में पढ़ाती थी और सोनी वहीं पास में नौकरी करती थी। जब दोनों का प्यार परवान चढ़ा तो सोनी उर्फ कार्तिक ने प्रीति के सामने शादी का प्रस्ताव रखा, लेकिन जब तक प्रीति को सोनी से कार्तिक बनी कथित लड़के की सच्चाई पता लग चुकी थी, लेकिन वह दोनों इतनी आगे बढ़ चुकी थी कि उनको पीछे लौटना नहीं था। 

आगरा के टेडी बगिया के विकास नगर निवासी युवती के साथ नगला किशनलाल में रहने वाली युवती कालिंदी विहार के एक महाविद्यालय में पढ़ती थीं। दो वर्ष पहले स्नातक की पढ़ाई के दौरान उनमें दोस्ती हुई। इनमें नगला किशनलाल में रहने वाली युवती ब्राह्मण समाज से है। वह बॉयकट हेयर स्टाइल में जींस टीशर्ट पहनकर रहती है। विकास नगर निवासी युवती दलित समुदाय से है।

दोनों के बीच प्यार हो गया। इसके बाद इन दोनों ने इस प्यार को शादी में बदलने का फैसला कर लिया। एक वर्ष पहले सवर्ण युवती लड़का बनकर सहेली के घर पहुंची और उसकी मां के सामने शादी का प्रस्ताव रख दिया। उसकी मां ने जातियों का हवाला देते हुए शादी से इंकार कर दिया और कुछ दिन में ही बेटी के लिए दूसरा लड़का देखकर शादी तय कर दी। दोनों सहेलियां बौखला गईं और उन्होंने लड़के के घरवालों को धमकी देकर रिश्ता तुड़वा दिया। इसके बाद हारकर टेढ़ी बगिया निवासी सहेली की मां ने भी शादी के लिए हां कर दी।

आगरा में 16 अप्रैल को अंबेडकर जयंती के आयोजन के बाद टेडी बगिया में जाटव समाज के युवक युवतियों का सामूहिक विवाह सम्मेलन आयोजित हुआ। आगरा के थाना एत्माद्दौला में 16 को सामूहिक विवाह सम्मेलन में लड़की ने लड़का बनकर लड़की से की शादी। मामला सामने आने पर दोनों लड़कियों ने अलग होने से इनकार किया। दोनों ने शादी कर ली। इसके बाद दोनों साथ रहने लगे। दूल्हा बनी सहेली ने सम्मेलन में फर्जी मां-बाप खड़े किए थे। अपने परिवार के लोगों को शादी के संबंध में कोई जानकारी नहीं दी थी।

शादी के बाद और घर से भी अलग रह रही थी। इस दौरान परिवार के लोग तलाश में आज टेढ़ी बगिया के विकास नगर पहुंचे। उसकी सहेली के घर वालों से अपनी बेटी के बारे में पूछा तो वह चौंक गए। फोन करके दोनों को घर पर बुलाया गया इसके बाद दूल्हा बनने वाली युवती के कपड़े उतरवाकर देखा गया तो असलियत सामने आ गई। इसके बाद उन्होंने हंगामा शुरू कर दिया। पुलिस दोनों को थाने ले गई मगर दोनों साथ रहने पर ही अड़ी हैं । सहेलियों का कहना है कि उन्हें न तो जाति से मतलब है और ना ही लड़के लड़की होने से। उन्हें कोई अलग नहीं कर सकता दोपहर तक दोनों को थाना में पुलिस के साथ ही उनके परिवार के लोग समझाने में लगे थे। 



This post first appeared on विराट कोहली ने शहीदों के नाम की जीत, please read the originial post: here

Share the post

लड़की ने लड़की को पाने के लिए पार की सारी हदें, ऐसा ड्रामा जिसे सुन पैरों तले जमीन खिसक जाएगी

×

Subscribe to विराट कोहली ने शहीदों के नाम की जीत

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×