Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

Sukesh Chandrashekhar Biography in Hindi

Sukesh Chandrashekhar Biography in Hindi – ₹200 करोड़ की धोखाधड़ी करने वाला महाठग कौन है ? सुकेश के चक्रव्यूह में फंसी बॉलीवुड की अभिनेत्रियां कैसे फंस गयी ? क्या आप के मंत्री ने ठग को ठगा ? क्या सत्येंद्र जैन ने ली ₹10 करोड़ की प्रोटेक्शन मनी ?

कौन है सुकेश चंद्रशेखर (Who is Sukesh Chandrashekhar) ? इन सब सवालों के जवाब जानेंगे इस लेख के माध्यम से |

Sukesh Chandrashekhar Real Story in Hindi

सुकेश चंद्रशेखर (Sukesh Chandrashekhar) एक ऐसा ठग जिसने Bollywood Industries की बड़ी बड़ी हिरोइनों समेत बड़े बड़े राजनेताओं को अपनी ठगी का शिकार बनाया |

यहाँ तक कि Jacqueline Fernandez और Nora Fatehi जैसी common सुंदरियाँ भी इसके जाल से बच ना सकी |

अब अगर आप सोच रहे हैं कि ये आदमी कोई बड़ा और अमीर आदमी था तो आप गलत है | क्योंकि ये आदमी यानी Sukesh Chandrasekhar एक बेहद center class परिवार से आता था |

अब center class से होने के बाद भी इसकी पहुँच इतने बड़े बड़े लोगों तक कैसे हुई? कैसे इसने jail में बैठे बैठे दो सौ करोड़ रुपए की ठगी कर ली? ये जानने से पहले सुकेश के पारिवारिक बैकग्राउंड के बारे में जानते हैं |

Sukesh Chandrashekhar ka Jeevan Parichay

Sukesh Chandrasekhar, Tamil Nadu के मदुरई के एक मध्यम वर्गीय परिवार लड़का था जिसके पिता का रबड़ का कारोबार था |

पिता ने खून पसीना एक करके मेहनत की, कारोबार के साथ एक half time नौकरी भी की | ताकि वो अपने बेटे को एक अच्छे faculty में admission दिला सके.

सुकेश के पिता का ये सपना पूरा भी हुआ और सुकेश को बड़े faculty में admission मिल गया. यहीं से उसकी life में change आया लेकिन ये change constructive change नहीं था.

बड़े faculty में जाकर सुकेश inferiority complicated का शिकार हो गया. School के बाकी बच्चे बड़ी महंगी कारों से आया करते और वो अपने पापा के साथ उनके पुराने scooter से. इसलिए सुकेश ने ठान लिया कि वो कैसे भी अमीर बनकर रहेगा. और इसके लिए उसने चुना ठगी का रास्ता.

स्कूल के टाइम से शुरू कर दी ठगी

स्कूल में पढाई के दौरान ही सुकेश ने ठगी करनी शुरू कर दी थी | जब वो अपने faculty में था तभी उसने space के police commissioner के नाम से एक letter बनवाया. जिसमें लिखा था कि वो पूरे karnataka में कहीं भी आ जा सकता है.

उस समय तक सुकेश बालिग भी नहीं था और लेकिन फिर भी वो बड़े आराम से गाड़ियों से घूमता और कोई भी उसे रोक भी नहीं सकता था.

लेकिन उसकी इस धांधली का खुलासा तब हुआ जब एक बार वो गाड़ी से कहीं जा रहा था और एक police officer ने उसे रोक लिया. हमेशा की तरह सुकेश ने उन्हें वही commissioner वाला letter दिखा दिया. लेकिन उसे पता नहीं था कि ये officer वही commissioner है जिनके नाम से उसने फ़र्ज़ी letter बनवाया था. Officer सारा माजरा समझ गए और सुकेश और उसके पिता को jail में डलवा दिया गया.

लेकिन इसके बाद भी सुकेश की ठगगियों का सिलसिला रुका नहीं बल्कि और बढ़ता गया. साल 2007 में सुकेश ने पहली बार बड़ी ठगी की. उसने एक बूढ़े आदमी से एक करोड़ रुपए ठगे.

ये पहली घटना थी लेकिन इसके बाद सुकेश कभी रुका नहीं. बल्कि यहाँ से उसके हौसले बुलंद होते गए.

खुद को बताता था CM का भतीजा

मुख्यमंत्री M Karunanidhi के समय वो खुद को Chief Minister का भतीजा बताकर लाल बत्ती वाली luxurious गाड़ियों में घूमता और Police वालों से भरसक खिदमत लेता.

मुख्यमंत्री का भतीजा ही नहीं सुकेश कई बार खुद को IAS officer, बड़ा नेता या businessman बताकर भी लोगों से पैसे ठग लिया करता था.

इसी तरह उसने एक बार एक businessman को tender दिलवाने का झांसा देकर उससे पैसे ठगे थे.

दरअसल सुकेश ने एक IAS officer बनकर businessman को name किया और उससे कहा कि वो उसे एक बड़ा tender दिलवा सकता है. लेकिन बदले में उसने businessman से 19 करोड़ रुपए की मांग रखी. Tender के लालच में businessman मान तो गया लेकिन उस समय उसके पास इतने पैसे नहीं थे.

इसलिए उसने Canara financial institution में mortgage के लिए apply किया. हालांकि Loan भी आसानी से पास नहीं हो रहा था. इसलिए सुकेश ने फिर अपना दिमाग लगाया और Bank वालों को भी लालच देकर खरीद लिया और mortgage cross करवा लिया.

और इस तरह financial institution को 12 करोड़ रुपए का चूना लगाया गया. और जब तक वो businessman और financial institution वाले ये सब समझ पाते सुकेश अपना काम करके फरार हो गया था. खातों को seize करवाया गया लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ.

बड़ी अभिनेत्रियों को फांसना थी आदत

आगे चलकर उसने south indian movie की अभिनेत्री Lina Maria Paul से भी contacts बनाए. Lina वहीं अभिनेत्री हैं जिन्होंने हिंदी फिल्म Madras Cafe में भी काम किया है.

सुकेश ने Lina को movie का supply दिलवाने का लालच देकर मिलने बुलाया था.

जब वो Lina से मिला उसने अपनी life, luxurious से भरी और चकाचौंध वाली दिखाई. लाल बत्ती salute मारते police कर्मचारी देखते ही Lina, सुकेश से impress हो गयी. बाद में दोनों के बीच नजदीकियाँ बढ़ी और बात शारीरिक संबंधों तक भी जा पहुँची.

लेकिन इसी बीच सुकेश को jail हो गयी. Lina को लगा अब सुकेश और उनका रिश्ता लगभग खत्म हो गया है और इसलिए उन्होंने अपना abortion  करवा लिया.

हालांकि जब सुकेश Jail से बाहर आया दोनों के contacts फिर बढे और Lina ने भी अपना फिल्मी profession छोड़, सुकेश का ठगी का धंधा be a part of कर लिया.

Lina अकेली अभिनेत्री नहीं है जिनके साथ सुकेश के शारीरिक संबंध रहे हैं. अथाह पैसा लूटने के बाद सुकेश के शौक भी अजीबो गरीब हो गए थे.

सुकेश को बड़ी बड़ी अभिनेत्रियों के साथ समय बिताने का शौक था. और इसके लिए वो कितनी भी कीमत खर्च करने को तैयार था.

Jacqueline Fernandez बनी शिकार

बड़ी अभिनेत्रियों से contact बनाने के लिए सुकेश उन्हें महंगे तोहफे भेजा करता था. कुछ ऐसा ही पैंतरा उसने Bollywood फिल्म अभिनेत्री Nora Fatehi, Bhumi Pednekar, और Sara Ali Khan जैसी कई heroins पर आजमाया | लेकिन हीरोइनों ने उसके presents settle for नहीं किए और उसके शिकार होने से बच गयी.

लेकिन Jacqueline Fernandez उसका शिकार होने से ना बच सकी. एक contact के by way of दोनों का संपर्क हुआ. और हयात Hotel में दोनों की assembly repair हुई. Jacqueline को लेने के लिए सुकेश ने Mumbai airport पर डेढ़ लाख रुपए प्रति घंटे के किराए वाला एक non-public jet भेजा. चेन्नई के हयात lodge में दोनों की मुलाकात हुई जहाँ दोनों ने साथ में एक रात भी गुजारी.

Jacqueline से संपर्क बढ़ाने के लिए सुकेश ने उनके विदेश में रहने वाले रिश्तेदारों को करीब सात करोड़ रुपए के presents दिए. सुकेश के साथ संबधों का ही नतीजा ही है कि आज Jacqueline भी ED का शिकार हो चुकी हैं.

राजनेताओं को भी नहीं छोड़ा

सिर्फ Heroeins ही नहीं बल्कि सुकेश political leaders को भी अपना शिकार बनाया करता है.

Jayalalitha की मौत के बाद जब उनकी social gathering दो हिस्सों में बंट गयी और दोनों पक्षों के बीच चुनाव चिन्ह को लेकर झगड़ा शुरू हुआ. तो सुकेश ने इस मौके का भी फायदा उठाना चाहा.

सुकेश ने शशिकला के भतीजे Dinakaran को name किया और खुद को Election Commission के एक अफसर का करीबी बताया. उसने दवा किया कि वो उन्हें social gathering का चिन्ह दिलवा सकता है लेकिन बदले में उन्हें

50 करोड़ रुपए देने होंगे. सौदा तय हो गया और दिल्ली के Hotel में सुकेश की मुलाकात Dinakaran से हुई. लेकिन बाद में पता चला असल में ये सब कुछ सुकेश को arrest करने के लिए रचा गया एक lure था. और Sukesh Chandrasekhar को arrest कर लिया जाता है.

जेल में रहकर ठगे 200 करोड़

लेकिन हद तो तब हो गयी जब jail में रहते हुए भी उसने 200 करोड़ की ठगी को अंजाम दे दिया. सुकेश तिहाड़ jail के barrack quantity 204 के ward 3 में था. थोड़े time में ही उसने police कर्मचारियों से setting कर ली.

इसलिए 8 लोगों के लिए बने barrack में वो अकेले रहता था. और वहीं से अपने कारनामों को अंजाम दिया करता था. यहाँ तक कि Jail में उसने iphone 12 तक organize कर लिया था. उसके कमरे के सभी CCTV कैमरा को ढककर रखा गया था.

शिवेंद्र मोहन सिंह नाम का एक businessman जिसने बड़ा घोटाला किया था और jail में बंद था. Sukesh ने उसकी पत्नी को अपना शिकार बनाया.

Sukesh बहुत चालाक था. वो अपने आस पास रह रहे कैदियों को observe किया करता था. इसी दौरान उसने शिवेंद्र को observe किया कि शिवेंद्र jail से निकलने के लिए बहुत बेचैन है. धीरे धीरे उसने शिवेंद्र से अपनी नजदीकी बढ़ाई. और उसके करीबियों की जानकारी भी ली.

धीरे धीरे करके उसने शिवेंद्र की पत्नी अदिति का quantity ले लिया. और फिर बड़ी ही चालाकी से अदिति को name करके उसने कहा कि वो ministry of regulation का एक अफसर है. और सरकार शिवेंद्र को jail से बाहर निकालने का plan कर रही है क्योंकि medical क्षेत्र में उसका काफी योगदान है. और Corona time में शिवेंद्र जैसे लोगों की देश को काफी जरूरत है.

सुकेश ने telephone पर ऐसी setting कर रखी थी कि सामने वाले को वही नाम दिखे जो वो दिखाना चाहता है और इसलिए अदिति को भी लगा कि telephone ministry of regulation से ही आया है.

अगली बार सुकेश फिर से खुद को Home ministry का अफसर बताकर name करता है. यहाँ तक कि वो ये दावा करता है कि dwelling minister अमित शाह उसके सामने बैठे हैं और पूरा मामला सुन रहे. ताकि शिवेंद्र की रिहाई का course of शुरू हो सके.

अगली बार तो हद ही हो गयी क्योंकि सुकेश ने खुद को PM Modi का secretary P. Okay. Mishra ही बता दिया.

इस तरह कई बार बेवकूफ बनाकर शिवेंद्र की पत्नी से कुल 200 करोड़ रुपए ठग लिए. ये पैसा दुबई और Hongkong के accounts में switch करवाया गया था. सुकेश ने उसे बात किसी और को बताने के लिए ये कहकर मना किया था कि इससे authorities की बेज़्ज़ती होगी. और इस सबके लिए उसने तिहाड़ jail की police को 30 से 35 करोड़ रुपए दिए थे. मामला तब खुला जब अदिति ने police में criticism की.

AAP के मंत्री पर लगाया आरोप

दिल्ली की राजनीति में LG और दिल्ली की आप सरकार के बीच तनातनी चलती रहती है | इसका भी सुकेश ने फायदा उठाने की कोशिश की और जेल में बंद सत्येंद्र जैन पर आरोप लग दिया की उसने सत्येंदर जैन को 10 करोड़ दिए हैं | सुकेश ने बाकायदा LG को चिट्ठी लिखकर ये आरोप लगाए जिसकी जांच चल रही है |

उसने ये आरोप भी लगाए कि सत्येंद्र जैन ने जेल में कई बार उससे मुलाकात की है | आम आदमी पार्टी ने इन आरोपों को सिरे से नकार दिया है |

तो ये थी Sukesh Chandrasekhar और उसकी ठगी की कहानी.

निष्कर्ष

दोस्तों आपको Sukesh Chandrashekhar Biography in Hindi के बारे में रोचक जानकारी कैसी लगी, हमे कमेंट करके जरूर बताएं और इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें.

उम्मीद है आपको यह पसंद आई हो. ऐसेही Amazing Facts in Hindi में पढ़ने के लिए हमारी साईट को भेंट दे.

धन्यवाद

The post Sukesh Chandrashekhar Biography in Hindi appeared first on Amazing Facts Hindi.



This post first appeared on Amazing Facts Hindi, please read the originial post: here

Share the post

Sukesh Chandrashekhar Biography in Hindi

×

Subscribe to Amazing Facts Hindi

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×