Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

एक स्कूल मास्टर के पास है 200 करोंड़ से ज्यादा की प्रोपर्टी, दुनिया में फैला है इसका नाम

New Delhi: एक छोटे से स्कूल के टीचर के पास करोड़ों की प्रोपर्टी होना बहुत आश्चर्य की बात है। हम ऐसे मास्टर के बारे में बताने जा रहे जो करोड़ो की संपत्ती का मालिक है।

जी हां आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन यह सच है लेकिन सोचने वाली बात यह है कि कुछ हजार कमाने वाले इस शख्स के पास इतने पैसे आए कहा से तो आइए आपको बताते है इसके पीछे की सच्चाई। दरअसल एक छोटे से स्कूल में पढ़ाने वाला ये टीचर दुनिया का सबसे बड़ा सट्टा किंग है। 37 साल से ऑनलाइन सट्टे की दुनिया में उस शख्स की कंपनी का टर्नओवर सालाना 200 करोड़ से ज्यादा पहुंच चुका था। कंपनी का नेटवर्क दुनिया के 15 देशों के अलावा भारत के सात राज्यों में फैला हुआ है।

बता दें इस सट्टा किंग का नाम है रमेश चौरसिया, पुलिस ने इसे पिछले साल मई में मुंबई से गिरफ्तार किया था। जिसके बाद इंदौर पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ की तो आरोपी रमेश चौरसिया ने काफी सनसनीखेज खुलासे किए। गेमिंग इंडिया प्राइवेट लिमिटेड नाम की कंपनी के माध्यम से उसने दुनिया में अपना नेटवर्क फैला रखा था।

बताया जा रहा है कि रमेश चौरसिया ने मुंबई से 1976 में बीकॉम फर्स्ट इयर की पढ़ाई पूरी की। जिसके बाद उसने छोटा सा स्कूल खोल लिया था। 1981 में उसने स्कूल के छोटे बच्चों को गेम खिलाना शुरू किया। बाद में रुपये का लेन देन शुरू हो गया। जब काम अच्छा चला तो उसने खुद का सॉफ्टवेयर बना लिया।

बता दें 1996 में रमेश चौरसिया ने अपने नाम से चौरसिया लीसिंग एंड फाइनेंस कंपनी खोल ली। सॉफ्टवेयर में ग्राहक की हार तय होती थी। उसके ऑफिस में लगभग 15 लोगों का स्टाफ काम करता था, ग्राहकों से रोजाना 5 करोड़ से अधिक का सट्टा लगवाया जाता था। कुछ साल में नेटवर्क दुनियाभर में फैल गया।

जानें कैसे होता था सट्टे का खेल- रमेश चौरसिया एक एरिया मैनेजर की नियुक्ति करता था। एरिया मैनेजर दुकानदारों को क्लाइंट आईडी बनाकर देते। इस आईडी के माध्यम से 1 रुपये का 1 पांइट, के हिसाब से बेचा जाता। दुकानदार गेम खेलने वाले कस्टमरों को प्वाइंट देते। कस्टमर मोबाइल पर सॉफ्टटवेयर अपलोड कर गेम खेलते थे।

बता दें इस गेम में कस्टमर की जीत हार पहले से तय होती थी। अगर जीत होती तो जीत की राशि में 10 प्रतिशत एरिया मैनेजर को 50 दुकानदारों का दिया जाता। यदि कस्टमर जीतता तो उसकी जीत का पैसा एरिया मैनेजर देगा और हारता तो दोबारा प्वाइंट खरीदना पड़ते। अंत में नुकसान होना तय था।

The post एक स्कूल मास्टर के पास है 200 करोंड़ से ज्यादा की प्रोपर्टी, दुनिया में फैला है इसका नाम appeared first on Bavaal.com | Top News |.



This post first appeared on विराट कोहली ने शहीदों के नाम की जीत, please read the originial post: here

Share the post

एक स्कूल मास्टर के पास है 200 करोंड़ से ज्यादा की प्रोपर्टी, दुनिया में फैला है इसका नाम

×

Subscribe to विराट कोहली ने शहीदों के नाम की जीत

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×