Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

एक हत्यारे को बचाने के लिए खड़े हुए हजारों हिंदू... कहा-शंभू को बचाने के लिए जान भी दे देंगे

New Delhi : दिनदहाड़े एक शख्स की कुल्हाड़ी से मारकर हत्या करने के बाद उसे जिंदा जलाने वाले शख्स शंभूलाल रेगर इस समय पुलिस की हिरासत में हैं।

राजस्थान के राजसमंद में हुई इस घटना के बाद शंभूलाल के नाम पर पैसा इकट्ठा किया जा रहा है। इन दिनों सोशल मीडिया पर एक संदेश वायरल हो रहा है, जिसमें शंभूलाल के नाम पर पैसा इकट्ठा किया जा रहा है।

जन्म के बाद सीने के बाहर धड़क रहा था इस बच्ची का दिल, डॉक्टरों के चमत्कार से बची मासूम की जान
 

राजस्थान पुलिस ने ऐसे ही एक बैंक खाते को सीज किया है, जिसमें शंभूलाल रेगर के नाम पर इकट्ठा किए गए करीब 3 लाख रुपए जमा हो चुके थे। इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, देश के हर राज्य से लगभग 516 लोगों ने पैसा जमा कराया है। यह बैंक खाता शंभूलाल रेगर की पत्नी सीता के नाम पर है।

राजसमंद के वरिष्ठ सर्कल अफसर राजेंद्र सिंह राव ने बताया कि शुरुआती जांच में हमें पता चला है कि देश के अलग-अलग हिस्सों से करीब 516 लोगों ने चंदे के रूप में पैसा जमा कराया है। उन्होंने बताया कि इंटरनेट बैंकिंग के जरिए भी इस खाते में पैसा जमा कराया है। पुलिस ने इस सिलसिले में 2 बिजनेसमैन को भी गिरफ्तार किया है, जो शंभूनाथ की तस्वीरें और मैसेज सोशल मीडिया में शेयर कर पैसा इकट्ठा कर रहे थे। इन संदेशों में बैंक खाते की जानकारी देते हुए शंभूनाथ के परिवार की मदद करने की अपील की जा रही है।

सुहागरात से पहले ही एक-साथ बिस्तर पर लेटे दूल्हा-दुल्हन, कारण जान आपको भी होगा इनपर गर्व
 

उदयपुर रेंज के IG आनंद श्रीवास्तव ने बताया कि फिलहाल हमने ये खाता सीज कर दिया है और फिलहाल सभी ट्रांजेक्शन की जांच की जा रही है, ताकि पता लगाया जा सके कि इस खाते में पैसा किस-किसने जमा किया है। पुलिस के मुताबिक, शंभूनाथ की तस्वीरें और पैसा जमा करने का संदेश फैलाने वाले बिजनेसमैन प्रकाश सिंह और दिनेश सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं राजसमंद के भीम स्टेशन के एसएचओ ज्ञानेंद्र सिंह ने कहा है कि सोशल मीडिया पर ये तस्वरें और मैसेज सर्कुलेट करने वाले दोनों आरोपियों ने थाने में पुलिसवालों से बदसलूकी भी की है।

इस बीच कुछ हिंदूवादी संगठनों द्वारा शंभूनाथ के समर्थन में रैली को देखते हुए आज पुलिस ने राजसमंद और उदयपुर में धारा 144 लागू कर रखी थी और इस दौरान इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई। उदयपुर के आईजी ने बताया कि दो समुदायों के बीच हिंसा न भड़के इसलिए हमें ये कदम उठाना पड़ा है। इस बीच उस व्यक्ति को भी गिरफ्तार किया गया है जिसने शंभूनाथ के समर्थन में रैली का ऐलान किया था।

वहीं कट्टर हिंदुत्व छवि के कारण सोशल मीडिया में मशहूर हो चुके उपदेश राणा उदयपुर में रैली करने पहुंचे, लेकिन पुलिस ने उन्हें रोक दिया। फेसबुक पर एक लाइव वीडियो में उपदेश राणा ने कहा कि मेरी क्या गलती है? शंभूलाल रेगर के परिवार की आवाज उठाने के लिए मैं वहां जा रहा था। जब तक उसे दोषी करार नहीं दिया जा सकता तब तक शंभू निर्दोष है।

समुद्र में टाइगर शार्क की तरह हमला बोलेती है INS कलवरी, दुनिया के 20 देशों से आगे निकला भारत
 

राणा ने कहा कि मेवाड़ की धरती पर जो कुछ हो रहा है, मैं सब जानता हूं। राणा ने कहा कि यहां लोग नारे लगाते हैं - 'हिंदुस्तान में रहना होगा तो अल्लाहू अकबर कहना होगा'। मैं सरकार से पूछना चाहता हूं कि ऐसा कहने वाले कितने लोगों को सरकार ने अब तक गिरफ्तार किया है। 



This post first appeared on विराट कोहली ने शहीदों के नाम की जीत, please read the originial post: here

Share the post

एक हत्यारे को बचाने के लिए खड़े हुए हजारों हिंदू... कहा-शंभू को बचाने के लिए जान भी दे देंगे

×

Subscribe to विराट कोहली ने शहीदों के नाम की जीत

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×