Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

सामने आया मनमोहन सरकार का एक और महाघोटाला, कई हजार करोड़ की हेराफेरी

New Delhi : हजारों करोड़ रुपये की हेराफेरी करने वाले दीपक तलवार के खिलाफ CBI जांच से संप्रग सरकार के दौरान उड्डन और रक्षा सौदे से जुड़े बड़े घोटाले का पर्दाफाश हो सकता है। 

सीबीआइ की एफआइआर फिलहाल तलवार के एनजीओ में आए 90 करोड़ रुपये की विदेशी सहायता के दुरुपयोग पर आधारित है। लेकिन आशंका है कि एनजीओ में दलाली की रकम भेजी गई थी। एनजीओ में एयरबस से आए फंड से इस आशंका को बल मिलता है।

दरअसल दीपक तलवार के खिलाफ आयकर विभाग पहले से जांच कर रहा है। आयकर विभाग की जांच में दीपक तलवार के देश-विदेश में फैले कई ट्रस्ट और कंपनियों का पता चला है, जिनमें 1000 करोड़ रुपये से अधिक के लेन-देन हुए हैं। 

विदेशी मुद्रा में हुए इन सभी लेन-देन के मामलों की ईडी भी फेमा के तहत जांच कर रहा है। लेकिन पहली बार तलवार के खिलाफ विदेशी फंड के दुरुपयोग का आपराधिक मामला दर्ज हुआ है। इसके आधार पर ईडी अब उसके खिलाफ मनी लांड्रिंग रोकथाम कानून के तहत केस दर्ज करने की तैयारी कर रही है और सीबीआइ से एफआइआर की कॉपी मांगी है।

सीबीआइ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि दीपक तलवार के एनजीओ एडवांटेज इंडिया को जिन कंपनियों ने विदेशी सहायता दी है, वह चौंकाने वाला है। इनमें सबसे अहम नाम हवाई जहाज बनाने वाली यूरोपीय कंपनी एयरबस का है। संप्रग सरकार के दौरान एयर इंडिया ने कुल 111 विमान खरीदे थे, जिनमें 48 एयरबस के विमान थे। जबकि इतने विमानों की जरूरत ही नहीं थी। 

सीबीआइ इसकी अलग से जांच कर रही है। आशंका है कि जांच एजेंसियों से बचने के लिए एयरबस ने भारत में हुए सौदों के लिए अपने सीएसआर फंड से एनजीओ को सहायता के रूप में दिखा दिया। जबकि मूल रूप यह दलाली की रकम थी। 

यही नहीं, जिस तरह से दीपक तलवार ने फर्जी बिल के सहारे इन पैसे के खर्च का हिसाब दिखाया। उससे आशंका और भी अधिक गहरी हो जाती है। वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि वे न सिर्फ एफसीआरए कानून के तहत विदेशी सहायता के दुरूपयोग की जांच कर रहे हैं, बल्कि विदेशी सहायता के पीछे के सच का भी पता लगाया जाएगा।

एयरबस ही नहीं, दूसरी विमानन कंपनियों से दीपक तलवार को मिले पैसे उड्डयन मंत्रालय में बड़े घोटाले का संकेत कर रहे हैं। आयकर विभाग की जांच में पता चला कि कतर एयरवेज से दीपक तलवार के खाते में 61 करोड़ रुपये, एयर अरबिया से लगभग 62 करोड़ रुपये और अब्दुल रहीम अल अली नाम के एक शख्स के खाते से लगभग 65 करोड़ रुपये आए थे। सीबीआइ के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इन सभी मामलों की गहराई से जांच की जाएगी और जल्द ही दीपक तलवार को पूछताछ के लिए तलब किया जाएगा।



This post first appeared on विराट कोहली ने शहीदों के नाम की जीत, please read the originial post: here

Share the post

सामने आया मनमोहन सरकार का एक और महाघोटाला, कई हजार करोड़ की हेराफेरी

×

Subscribe to विराट कोहली ने शहीदों के नाम की जीत

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×