Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

जापान में पुलिस वालों को नहीं मिल रहा काम, सरकार से बोले-मुफ्त की सैलरी नहीं लेंगे हमें काम दो

....

 Tokyo: दुनिया के कई देशों में जहां एक तरफ क्राइम का ग्राफ बढ़ रहा है, वहीं दूसरी तरह Japan में इसके उलट क्राइम रेट लगातार गिर रहा है। इसे शिंजो सरकार की बड़ी उपलब्धि माना जा रहा है। पिछले एक साल में Crime rate लगभग 1% से भी नीचे आ गया है। ऐसे में Japan के Police वाले हर वक्त काम की तलाश कर रहे हैं, क्योंकि उनके पास कोई काम ही नहीं है।

मर्डर रेट मात्र 0.3 : Japan में Crime के घटते दर को लेकर अब तक कई रिपोर्ट्स सामने आ चुकी है। पिछले 13 सालों में Crime rate यहां काफी कम हो गया है। अगर दो साल पहले साल 2015 के अपराध देखे जाएं तो यहां पर हत्‍या के मामलों का ग्राफ बेहद कम है। इस पूरे साल में देश में बस गोलीबारी का एक मात्र मामला सामने आया है। ज‍सिसे यहां पर एक लाख जनसंख्या पर मर्डर रेट मात्र 0.3 है। वहीं अगर अमेरिका में यह देखा जाए तो मर्डर रेट 4% है। 

ऐसे में साफ है कि यहां पर Police वालों की संख्‍या जितनी ज्‍यादा है उतने ही यहां पर अपराध काफी कम है। यहां पर Police विभाग में करीब 2.59 लाख कर्मचारी हैं। जिनकी अगर एक दशक से पहले तुलना की जाए तो ये करीब 15 हजार कर्मचारी ज्‍यादा है। ऐसे में साफ है कि यहां अपराध का ग्राफ गि‍रने से Police कर्मि‍यों के पास काम की कमी है। जिससे वे काफी एक्‍ट‍िव रहते हैं और अपने लिए छोटे-छोटे मामलों के जरिए काम तलाश रहे हैं। 

क्‍योटो की कनाको टाकायमा यूनि‍वर्सिटी के मुताबि‍क Japan में Police पब्‍ल‍िक की हर हरकत पर कड़ी नजर रखती हैं। इसका एक गिना चुना मामला दक्षिणी Japan के कागोशिमा शहर में देखने को मिला। यहां पर एक सुपरमार्केट के पास पार्क में एक खुली कार काफी दिन तक खड़ी रही। Police ने करीब हफ्तेभर तक दिन-रात उस कार पर नजर रखी। ऐसे में जब एक व्‍यक्‍त‍ि उस कार के करीब आया और उससे कुछ निकालने तो Police ने उसे पकड़ लिया।  

टैक्‍सी का लाइसेंस नहीं : इसके अलावा यहां पर Police वाले Traffic Rules को तोडऩे वालों पर भी पैनी नजर रखते है। जि‍ससे कि उनसे कोई बचकर न जा सके। Japan के कई राज्यों में Police रेड सिग्नल तोड़ने वाले साइकिल सवारों को भी नहीं छोड़ रही है। ऐसे लोगों को भी वह रोक लेती है। इसके अलावा यहां पर Police वालों ने हाल ही में कुछ ऐसे लोगों को गिरफ्तार कर लिया, जो ऐसे टैक्सी की राशि आपस में बांट रहे थे। जिस टैक्‍सी का कोई लाइसेंस ही नहीं था। 

  

यहां पर ड्रग आदि लेने वालो, छेड़छाड़ करने वालों व अराजक तत्‍वों पर भी Police पैनी नजर रखती है। जिससे लोग ऐसी हरकते करने में काफी डरते हैं। यही वजह है कि ये घटनाएं भी कम हुई है। वहीं 2015 में Japan की Police ने एक ऐसे व्यक्ति को गिरफ्तार किया था जिसका कुसूर सुनकर शायद हंसी आ जाए। Police ने उस व्‍यक्‍त‍ि को बस इसलिए गिरफ्तार किया था क्‍योंकि उसने प्रधानमंत्री शिंजो आबे के चेहरे पर हिटलर जैसी मूंछें लगा दी थीं।



This post first appeared on विराट कोहली ने शहीदों के नाम की जीत, please read the originial post: here

Share the post

जापान में पुलिस वालों को नहीं मिल रहा काम, सरकार से बोले-मुफ्त की सैलरी नहीं लेंगे हमें काम दो

×

Subscribe to विराट कोहली ने शहीदों के नाम की जीत

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×