Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

नागपुर के मुंह पर पट्टी बंधी


पठानकोट हमले से ठीक पहले आतंकियों द्वारा अगवा किए गए पंजाब पुलिस के एसपी सलविंदर की कहानी का सच क्या है, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) उनके पॉलिग्राफ टेस्ट के जरिए यह जानने की कोशिश कर रही है। कोर्ट की मंजूरी के बाद मंगलवार को सलविंदर को पॉलिग्राफिक टेस्ट किया गया। रिपोर्ट्स के मुताबिक सलविंदर का एम्स में ब्रेन मैपिंग टेस्ट भी करवाया जा सकता है। सलविंदर उस रात 'पेमेंट' लेने गए थे? जानकारों के मुताबिक, पॉलिग्राफ टेस्ट कराने के फैसले का मतलब ही यह है कि संबद्ध व्यक्ति पर शक ही नहीं, बल्कि अब वह बड़े शक के घेरे में आ चुका है और जांच में सहयोग नहीं कर रहा है।
               अगर यह एस पी इस्लाम  धर्म का होता तो नागपुर और उसके चेले अग्निबाण चला रह होते  .   देश द्रोही बताने के लाखो प्रमाण पत्र छपे रह गए है नाम किसका लिख दिया जाय .हल्ला मचाने वोट नही बढना है इसलिए चुप्प है .मोदी की पाकिस्तान यात्रा के बाद अजहर मसूद की गिरफ़्तारी का हल्ला भी उनके चेलो ने मचाया लेकिन शनि की दशा होने के कारण कोई टोटका कम नही आ रहा है अब मिडिया ही कह रहा है कि 'पाकिस्‍तान में आजाद घूम रहा है जैश-ए-मोहम्‍मद प्रमुख मसूद अजहर, गिरफ्तारी के दावे झूठे '  वही मोदी साहब विकास   की पुडिया ले जाकर असम में खोल रहे है हैदराबाद की कोई याद  नही रखना चाहते है दलित ने ही तो आत्महत्या की है चित्पावन नही मरा है . वही अब भी कहा जा रहा है कि  पाकिस्तान से दोस्ती अमरीकी आका  के कहने से होगी या दोनों देशो की सरकारों की  ईमानदारी के प्रयासों से होगी लेकिन माला जपनी है जपा जा रहा है जापका एक अंश यह भी है -केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री राव इंद्रजीत सिंह साथ ही उन्होंने उम्मीद जताई कि पाकिस्तान इस हमले के गुनाहगारों के खिलाफ कार्रवाई करेगा। इस बात के संकेत मिल रहे हैं कि शायद इस बार कुछ कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि आतंकवाद समूची दुनिया के लिए समस्या है। पाकिस्तान भी आतंकवाद का एक अड्डा है। इसलिए उस पर अंतरराष्ट्रीय दबाव भी है। 
            पट्टी तो खुलनी ही है  झूठ और अफवाहबाजी से देश नही चलता है गद्दारी तो कर सकते  हो देश नही चला सकते हो  धर्म  के आधार पर विभाजन करवाया -गाँधी को गोली मारी -दंगे करवाए अब क्या करोगे ?
-रणधीर  सिंह सुमन



This post first appeared on लो क सं घ र्ष !, please read the originial post: here

Share the post

नागपुर के मुंह पर पट्टी बंधी

×

Subscribe to लो क सं घ र्ष !

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×