Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

हेल्‍पलाइन पर्यटकों के बीच लोकप्रिय हो रही है

पिछले महीने प्रारंभ होने के बाद से अब तक 17,911 कॉल प्राप्‍त हुईं

पर्यटन मंत्रालय की टूरिस्‍ट इंफो हेल्‍पलाइन-टॉल फ्री नम्‍बर 1800111363 या लघु कोड 1663 पर्यटकों के बीच लोकप्रियता प्राप्‍त कर रही है और 8 फरवरी, 2016 को इसके प्रारंभ होने की बाद से इसे 20 मार्च, 2016 तक कुल 17,911 कॉल प्राप्‍त हुई हैं। टूरिस्‍ट इंफो लाइन का फोकस आईईसी अर्थात सूचना, शिक्षा एवं पर्यटकों के लिए संचार पर है जिसे एक हेल्‍प डेस्‍क से मदद मिलती है। यह सर्विस मुख्‍य रूप से उन लोगों की सेवा करती है जो भारत के बारे में या भारत के भीतर यात्रा करने के बारे में बहुत कम जानते हैं और वैसे लोगों की भी सेवा करती है जो भारतीय प्रणालियों को नहीं समझते और अक्‍सर अंग्रेजी भी नहीं जानते...
यह इंफो लाइन सेवा घरेलू एवं अंतर्राष्‍ट्रीय पर्यटकों/आगंतुकों को भारत में यात्रा एवं पर्यटन से संबंधित सूचना मुहैया कराती है तथा कॉलर्स को परामर्शों के जरिये सहायता देती है कि भारत में यात्रा करने के दौरान किसी परेशानी की स्थिति में क्‍या कदम उठाये जाने चाहिए, साथ ही, जरूरत पड़ने पर संबंधित अधिकारियों को सावधान भी करती है। 

भारत में यात्रा कर रहे या यात्रा करने की योजना बना रहे पर्यटक एक बाधारहित अनुभव के लिए सूचना एवं सहायता प्राप्‍त कर सकते हैं। पर्यटकों (घरेलू एवं अंतर्राष्‍ट्रीय दोनों) द्वारा भारत में रहने के दौरान किये गये कॉल नि:शुल्‍क होंगे। भारत में आए अंतर्राष्‍ट्रीय पर्यटक तथा अंतर्राष्‍ट्रीय कॉलर भी जो उपरोक्‍त भाषाएं बोलते हैं, को संबंधित भाषाओं में प्रवीण कॉल एजेंट की दिशा में निर्देशित कर दिया जायेगा। 

पर्यटकों के खिलाफ, विशेष रूप से महिला पर्यटकों के खिलाफ अपराध से जुड़ी घटनाओं की खबरों के कारण विदेशी टूर ऑपरेटरों तथा भारत आने वाले संभावित आगंतुकों द्वारा पर्यटकों की सुरक्षा को लेकर चिंता जताई रही है। दलालों की धमकियों एवं पर्यटकों के साथ ठगी के मामलों को लेकर भी गंभीर चिंताए जताई जाती रही हैं इसलिए 26 दिसम्‍बर 2014 को सुशासन दिवस के अवसर पर पर्यटन एवं संस्‍कृति राज्‍य मंत्री (स्‍वतंत्र प्रभार) एवं नागरिक उड्डयन मंत्री डॉ. महेश शर्मा ने प्रायोगिक आधार पर ‘अतुल्‍य भारत हेल्‍पलाइन’ लांच किया था। इसे किसी भी आपातकालीन स्थिति के दौरान पर्यटकों को दिशा-निर्देश देने के लिए संचालित किया जा सकता था, जिसमें चिकित्‍सा, अपराध, प्राकृतिक आपदाएं या कहीं फंस जाने जैसी आपातकालीन स्थितियां शामिल हैं। यह सेवा हेल्‍पलाइन-टॉल फ्री नम्‍बर 1800111363 या लघु कोड 1663 पर टॉल फ्री के रूप में उपलब्‍ध थीं। पर्यटन मंत्री ने यह भी वादा किया था कि 24X7 की यह हेल्‍पलाइन जल्‍दी ही 10 अंतर्राष्‍ट्रीय भाषाओं में उपलब्‍ध हो जायेगी। 

अपने वायदे पर खरे उतरते हुए डॉ. महेश शर्मा ने 8 फरवरी, 2016 को ‘हिंदी और अंग्रेजी समेत 12 अंतर्राष्‍ट्रीय भाषाओं में 24X7 टॉल फ्री नम्‍बर टूरिस्‍ट इंफो लाइन’ लांच किया था जो आज यहां आयोजित एक समारोह में वर्तमान टॉल फ्री नम्‍बर 1800111363 या लघु कोड 1663 पर उपलब्‍ध हुईं। इस परियोजना का क्रियान्‍वयन भारत सरकार के पर्यटन मंत्रालय द्वारा मेसर्स टाटा बीएसएस के माध्‍यम से किया जा रहा है जो खुली बोली प्रक्रिया के बाद इस कार्य से जुड़ी हुई है। अनुबंध केन्‍द्रों द्वारा संचालित भाषाओं में हिंदी एवं अंग्रेजी के अतिरिक्‍त 10 अंतर्राष्‍ट्रीय भाषाएं शामिल हैं जिनके नाम हैं- अरबी, फ्रेंच, जर्मन, इटालियन, जापानी, कोरियाई, चीनी, पोर्तुगीज, रूसी एवं स्‍पेनिश शामिल हैं। 


This post first appeared on INDIA NEWS,AGRA SAMACHAR, please read the originial post: here

Share the post

हेल्‍पलाइन पर्यटकों के बीच लोकप्रिय हो रही है

×

Subscribe to India News,agra Samachar

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×