Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

पीएम मोदी ने किया इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक का शुभारंभ, जानें क्या मिलेंगी सुविधाएं

India Post Payment Bank Launch : देश के 1.55 लाख डाकघरों को 31 दिसंबर 2018 तक आईपीपीबी प्रणाली से जोड़ लिया जाएगा.

India Post Payment Bank Launch : डाकिया अपने बैग में अब चिठ्ठी लेकर नहीं बैंक लेकर आएगा. जी हां, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बैग में स्मार्टफोन और उसमें बैंक लेकर आने वाले इस डाकिया यानि ‘इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक’ (आईपीपीबी) का शुभारंभ कर दिया है.
बता दें कि राजधानी दिल्ली में एक कार्यक्रम में इस चलते फिरते डाकिया बैंक की 650 शाखाएं शुरू की गई हैं.
यही नहीं 3,250 डाकघरों में इसका एक्सेस सेंटर यानि सेवा केंद्र भी शुरू किया गया है. इस कार्यक्रम में 20 लाख लोगों ने हिस्सा लिया जिनमें मंत्री, विधायकों के साथ सांसद समेत नेता भी शामिल रहे.
डाकिया बैंक को लेकर बोले मोदी
पीएम मोदी ने आईपीपीबी को पेश किया और डाकिया डाक के साथ चलता फिरता बैंक लाने का स्लोगन देते हुए देश को बहुत बड़ा नजराना मिलने की बात कही. मोदी ने कहा कि आईपीपीबी देश के अर्थतंत्र और सामाजिक व्यवस्था में बड़ा परिवर्तन करेगा.
गौरतलब है कि पहले भी सरकार ने जनधन के जरिये गरीबों को पहली बार बैंक तक पहुँचाया गया था और अब इस आईपीपीबी से सरकार फिर बैंक को गरीबों तक पहुंचाने का दावा कर रही है.
पीएम ने आईपीपीबी सरकार का सपना भी बताया. आगे कहते हुए पीएम ने भारतीय समाज में डाकिये के महत्त्व का जिक्र किया और आगे कहा कि सरकारों पर से लोगों का विश्वास डगमगाया होगा, लेकिन डाकिये के प्रति कभी विश्वास नहीं डगमगा सकता.
इसलिए सरकार ने आईपीपीबी के जरिए इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक से देश के हर गरीब तक, देश के कोने-कोने तक, दूर-दराज़ के पहाड़ों पर बसे लोगों तक, घने जंगलों के बीच रह रहे आदिवासियों तक, एक-एक भारतीय के दरवाज़े पर बैंक और बैंकिंग सुविधा का मार्ग खोला है.
यही नहीं पीएम मोदी का कहना है कि उनकी सरकार समय के साथ चलते हुए व्यवस्था में बदलाव में विश्वास रखती है, इसलिए पुरानी व्यवस्थाओं को रीफॉर्म करके डिजिटल इंडिया स्थापित किया जा रहा है, इस कतार में जनधन खाते, वस्तु एवं सेवा कर आदि के बाद अब इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक भी जुड़ गया है.
आईपीपीबी की सुविधाएं
प्रधानमंत्री ने आईपीपीबी की मदद से डिजिटल लेनदेन की व्यवस्था को विस्तार देने की पहल की है जिसमें बचत खाता, चालू खाता, धन हस्तांतरण, बिल भुगतान, प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण जैसी सुविधाएँ होंगी. तीसरे पक्ष के सहयोग से आईपीपीबी कर्ज और बीमा भी दिया जाएगा. बता दें कि ये सभी सेवाएँ बैंक के काउंटर के अतिरिक्त डाकिये घर से भी दी जाएंगी.
ईपीपीबी को लोगों के लिए सुगम, किफायती और भरोसेमंद बैंक के रूप में तैयार किया जा रहा है. देश के हर कोने में फैले डाक विभाग के तीन लाख से अधिक डाकियों और ग्रामीण डाक सेवकों के फैले बड़े नेटवर्क से इससे बहुत लाभ मिलेगा.
आईपीपीबी की तरफ से मिलने वाली इन सुविधाओं और इससे जुड़ी कई अन्य संबंधित सेवाओं को बैंक के अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी प्लेटफॉर्म का उपयोग करते हुए बहु-विकल्प माध्यमों (काउंटर सेवाएं, माइक्रो-एटीएम, मोबाइल बैंकिंग एप, एसएमएस और आईवीआर) के जरिए उपलब्ध कराया जाएगा.
बता दें कि इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक को भारतीय डाक विभाग की तरफ से शुरू किया गया है. जिसमें सेविंग्स अकाउंट के साथ करंट अकाउंट खुलवाने की व्यवस्था की गई है.
इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक न सिर्फ आपको बचत खाते पर ज्यादा ब्याज देगा, बल्क‍ि यह आपको डोरस्टेप बैंकिंग की सुविधा उपलब्ध कराएगा यानि घर पर बैठ कर ही बैंक खाता खुलवाया जा सकेगा. देश से सभी डाकघर 31 दिसंबर 2018 तक आईपीपीबी प्रणाली से जुड़ जाएंगे.

The post पीएम मोदी ने किया इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक का शुभारंभ, जानें क्या मिलेंगी सुविधाएं appeared first on HumanJunction.

Share the post

पीएम मोदी ने किया इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक का शुभारंभ, जानें क्या मिलेंगी सुविधाएं

×

Subscribe to Positive News India | Hindi Positive News | हिंदी समाचार | Humanjunction

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×