Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

10 प्वाइंट्स में समझे आयुष्मान भारत योजना के नियम और क्या है इससे लाभ

Ayushman Bharat Yojna Rules Benefits : आयुष्मान भारत योजना से लगभग 55 करोड़ गरीब और वंचित लोगों को फायदा पहुंचेगा.

Ayushman Bharat Yojna Rules Benefits : सरकार ने देश के सभी गरीब और वंचित परिवारों के लिए शुरू होने वाली महत्वकांक्षी आयुष्मान भारत योजना में और रियायतें देने की नई घोषणा करी है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के मौजूदगी में हुए एक कार्यक्रम में स्वास्थ्य मंत्रालय नें योऐंटी-फ्रॉड गाइडलाइंस,डेटा प्रिवेसी इन्फर्मेशन सिक्यॉरिटी पॉलिसी और इस योजना से जुड़ी अन्य जानकारियों के बारे में लोगों को संबोधित किया.
खास बात यह है कि अब कैंसर मरीजों को राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा का फायदा उठाने के लिए अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत नहीं पड़ेगी साथ ही उन्हें इलाज के दौरान अपनी जेब से एक भी रुपया खर्च करने की जरूरत नहीं होगी.
बता दें कि आने वाले 25 सितंबर को यह स्कीम देशभर में सभी वर्ग के लोगों के लिए लॉन्च कर दी जाएगी.
पढ़ें – 92 दवाओं के दाम किए गए तय, डायबिटीज और कैंसर की दवाएं भी शामिल
मरीजों को होने वाले फायदे
1. आयुष्मान भारत के तहत 10 करोड़ परिवारों को अस्पताल में भर्ती हुए बिना 5 लाख रुपये तक का मुफ्त फायदा मिलेगा. इसमें कैंसर जैसी बीमारी में की जाने वाली कीमोथेरपी, दवाइयां और जांच के खर्च भी कवर होंगे.
2. यही नहीं इस योजना में उपलब्ध चिकित्सा सुविधाओं में 1,300 से ज्यादा प्रसीजर शामिल की जाएंगी, जिसमें अस्पताल में भर्ती होने से पहले और बाद तक की कई प्रक्रियाएं शामिल होंगी.
3. इस योजना के तहत देश के किसी भी अस्पताल में इलाज करवाने की छूट भी दी जाएगी.साथ ही बिमारियों के निदान और दवाइयों आदि को भी इसमें शामिल किया गया है.
4.  इस स्कीम के तहत लाभार्थियों को रजिस्ट्रेशन करवाने और आयुष्मान भारत योजना में शामिल अस्पतालों की सेवाओं के लिए भुगतान करने की जरूरत नहीं पड़ेगी.
5. स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि इस योजना में लाभार्थी के रूप में व्यक्ति की पहचान के साथ उसे एक कार्ड जारी किया जाएगा जिसकी मदद से वह सालाना पांच लाख रुपये तक स्वास्थ्य बीमा का लाभ ले सकेगा.
6. किसी भी प्रकार की उम्र की सीमा के बिना हर व्यक्ति इस योजना का लाभ कैशलेस प्राप्त कर सकेगा, जिसका 60 प्रतिशत खर्च केंद्र सरकार और 40 प्रतिशत राज्य सरकारें उठाएंगी.
7. इतना ही नहीं इस स्कीम में मरीजों की मदद के लिए सुविधा प्रदान करने वाले पैनल में लाभार्थियों की सभी समस्याओं के समाधान आदि के लिए आरोग्य मित्र प्रतिनियुक्त किए जाएंगे.
8. साथ ही इस स्कीम से जुड़े हर तरह के संवेदनशील व्यक्तिगत डेटा की निजता और सूचना की सुरक्षा भी सुनिश्चित की जाएगी, जिसके लिए 94 से ज्यादा कंट्रोल सेट स्थापित किए गए हैं.
9. इन कंट्रोल सेट में हर लाभार्थी के स्वास्थ्य से जुड़ा व्यक्तिगत डेटा के आंकड़ों की सुरक्षा और उसके स्टोरेज की ऐसी व्यवस्था की गई है जिससे संबंधित व्यक्ति की मर्जी के बिना साझा नहीं किया जाएगा.
10. स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि इस योजना से करीब 10.74 करोड़ परिवारों को जोड़ने की कोशिश की गई है और ऐसी आशा है कि इससे 55 करोड़ लोगों को लाभ जरूर मिलेगा.
पढ़ें – AI की मदद से अब फेफड़ों के कैंसर ट्यूमर की 95% तक हो सकेगी सटीक पहचान
जानकारी के मुताबिक 29 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों ने सहमति पत्र पर दस्तखत किए हैं और प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के क्रियान्वयन पर काम शुरू कर दिया गया है.
वहीं पायलट बेसिस पर इस योजना का क्रियान्वन 16 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में शुरू किया गया है.

The post 10 प्वाइंट्स में समझे आयुष्मान भारत योजना के नियम और क्या है इससे लाभ appeared first on HumanJunction.

Share the post

10 प्वाइंट्स में समझे आयुष्मान भारत योजना के नियम और क्या है इससे लाभ

×

Subscribe to Positive News India | Hindi Positive News | हिंदी समाचार | Humanjunction

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×