Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

बॉलीवुड में एक बार फिर उठा कास्टिंग काउच का मुद्दा, प्रियंका से लेकर श्रुति हसन तक कह चुकी हैं #MeToo

Bollywood Casting Couch : राज्यसभा सांसद रेणुका चौधरी ने कहा संसद में भी कास्टिंग काउच होता है.

Bollywood Casting Couch : बॉलीवुड हो या हॉलीवुड कास्टिंग काउच का मुद्दा किसी भी फिल्म इंडस्टरी के लिए नया नहीं है.

हाल ही में इस लेकर दुनियाभर में #MeToo नाम से कैंपेन चलाया गया था जिसमें बड़े-बड़े फिल्मी सितारे अपने कास्टिंग काउच से जुड़े एक्सपीरिंयस को सभी से साझा किया.
भारत में यह मुद्दा एक बार फिर चर्चा का विषय बन गया है और इस बार इसकी वजह फेमस कॉरियोग्राफर सरोज खान का कास्टिंग काउच को लेकर दिया गया विवादित बयान है.
क्या है कास्टिंग काउच
सरल भाषा में समझें तो किसी व्यक्ति से किसी व्यवसाय या संगठन में एंट्री करने के लिए सेक्स की मांग करना कास्टिंग काउच कहलाता है.
एंटरटेनमेंट की दुनिया में कास्टिंग काउच शब्द का प्रयोग सबसे ज्यादा होता है. फिल्म इंडस्ट्री में हाथ आजमाने वाले यंग लोगों से सेक्स की मांग की जाती है.
गौरतलब है कि इस तरह कि मांग महिलाओं और पुरूषों दोनो से की जा सकती है. इसे यूं कहें कि ग्लैमर वर्ल्ड का ये सबसे घिनौना चेहरा है जिसका कई बार विरोध करने की कोशिश की गई है, लेकिन अभी भी ये पूरी तरह से फिल्म इंडस्ट्री में मौजूद है.
यह भी पढ़ें – टीवी शोज का सफल कैरियर छोड़ बिहार के अपने गांव में खेती करने पहुंच गया ये एक्टर
प्रियंका से लेकर श्रुति हसन तक से भी हो चुकी है मांग
बता दें कि कुछ दिन पहले सोशल मीडिया पर इसे लेकर #MeToo के जरीए कैंपेन चलाया गया था जिसमें  कई सितारों ने अपनी आपबीती सुनाई.
देसी गर्ल प्रियंका चोपड़ा ने इसे बारे में अपना पुराना किस्सा याद करते हुए बताया कि उन्हें एक बार फिल्म से बाहर इसलिए कर दिया गया क्योंकि उन्होंने एक फिल्म निर्माता की सेक्सुअल डिजायर को फुलफील करने से मना कर दिया था.
इसी क्रम में श्रुति हसन और ऋचा चड्ढा ने भी अपने अनुभव पब्लिकली शेयर किए हैं. वहीं रवीना टंडन का कहना है कि कास्टिंग काउच बॉलीवुड में मौजूद है, इंडस्ट्री में आने वाले बच्चे इसका शिकार होते हैं.
हालांकि कई फिल्मी हस्तीयां अपनी बातें शेयर करने के लिए सामने तो आईं, लेकिन किसी ने भी ऐसे लोगों का नाम नहीं लिया जो बॉलीवुड का एक बड़ा दुर्भाग्य है.
पुरूष भी होते हैं कास्टिंग काउच के शिकार
ऐसा नहीं है कि सिर्फ महिलाएं ही इस कास्टिंग काउच जैसी घिनौनी वारदात का शिकार होती हैं दरअसल पुरूष भी इसके शिकार होते हैं.
धारावाहिक बनाने के काम में शामिल एक काफी सफल एक्टर ने कहा है कि उन्हें सबसे प्रशंसित फिल्म निर्माता ने दक्षिण मुंबई के एक 5 सितारा होटल से फोन कर बुलाया. फिर उनकी फिल्म का अनुबंध बिस्तर के एक तरफ रखा और उन्‍हें कपड़े उतारने और उस फिल्म निर्माता को खुश करने के लिए कहा गया.
इस पर उन्‍होंने कमरा छोड़ दिया लेकिन वह भी उसका नाम लेना नहीं चाहता, इन सब बातों का पर्याप्त संकेत मिल जाता है कि कैसे बडे लोग नये लोगों का फायदा उठाते हैं.
यह भी पढ़ें – 65th National Film Awards : राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार का हुआ ऐलान, जानिए अवॉर्डस की पूरी लिस्ट
सरोज खान के कास्टिंग काउच मामले ने पकड़ा तुल
कास्टिंग काउच को लेकर सरोज खान ने एक अजीब सा बयान दे दिया है जिसके बाद से उनके खिलाफ बयानबाजी का सिलसिला शुरू हो गया है.
सरोज खान का कहना है बॉलीवुड में अगर कास्टिंग काउच है तो ये ही इंडस्ट्री उन लड़कियों को दौलत और शोहरत भी देती है.
सरोज खान ने अपने बयान में कहा कि ये बाबा आदम के जमाने से होता आ रहा है. हर लड़की पर कोई न कोई हाथ साफ करने की कोशिश करता है बस तरीका सबका अलग अलग होता है.
इस बयान के बाद हर तरफ से लोग एक सुर में सरोज खान के खिलाफ खड़े हो गए, जिसे देखते हुए सरोज जी ने अपनी गलती मानते हुए सभी से मांफी मांग ली
आपको बता दें कि इस मुद्दे पर कांग्रेस नेता रेणुका चौधरी का कहना है कि संसद में भी कास्टिंग काउच होता है.
लेकिन गौर करने वाली बात है कि क्या हमारा समाज आज इतना संवेदनहीन हो गया है कि किसी व्यक्ति की इज्जत महज एक पॉपुलारिटी स्टंट बनकर रह गया है।

The post बॉलीवुड में एक बार फिर उठा कास्टिंग काउच का मुद्दा, प्रियंका से लेकर श्रुति हसन तक कह चुकी हैं #MeToo appeared first on HumanJunction.

Share the post

बॉलीवुड में एक बार फिर उठा कास्टिंग काउच का मुद्दा, प्रियंका से लेकर श्रुति हसन तक कह चुकी हैं #MeToo

×

Subscribe to Positive News India | Hindi Positive News | हिंदी समाचार | Humanjunction

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×