Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

अन्ना हजारे के सपने के अनुरूप बना राजस्थान का टापरवाड़ा गांव।

अन्ना हजारे के सपने के अनुरूप बना राजस्थान का टापरवाड़ा गांव। पहली ही बरसात में बांध में तीन वर्ष का पीने का पानी आया। सामाजिक कार्यकर्ता विक्रम सिंह की खास भूमिका।
=====
राजस्थान के नागौर जिले की परबतसर पंचायत समिति का गांव टापरवाड़ा अब पूरी तरह सुविख्यात सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे के सपने के अनुरूप तैयार हो गया है। अन्ना हजारे इस गांव में 23 दिसम्बर 2017 को आए थे। तब ग्राम सभा में अन्ना हजारे ने कहा कि आज देश दुनिया के लोग उनके महाराष्ट्र के राणेगन सिद्धि गांव के विकास को देखने आते हैं। लेकिन मैं चाहता हंू कि आने वाले दिनों में नागौर के टापरवाड़ा गांव को देखने के लिए देश विदेश के लोग आए। अन्ना हजारे के जनआंदोलन से जुड़े टापरवाड़ा गांव के सामाजिक कार्यकर्ता विक्रम सिंह टापरवाड़ा ने कहा कि अब हमारा गांव अन्ना हजारे के सपने के अनुरूप तैयार हो गया है। पिछले छह सात माह में वीर तेजा मंडल के युवाओं और जागरुक ग्रामीणों ने गांव के छतरी वाला बांध में बरसात के पानी की आवक को रोकने वाले सभी अतिक्रमण हटवा दिए। इसी का नतीजा रहा कि पहली ही बरसात में बांध में तीन वर्ष तक का पेयजल जमा हो गया। चार हजार की आबादी वाले टापरवाड़ा गांव में इसी बांध से पेयजल की सप्लाई होती है। विशेषज्ञों के अनुसार टापरवाड़ा गांव के भूमिगत जलस्तर में भी वृद्धि हो गई है। ग्रामीणों का सामूहिक प्रयास है कि अभी बांध में और पानी एकत्रित किया जाए ताकि सिंचाई भी हो सके। अब गांव में ही ऐसी योजना बनाई जा रही है जिसके अंतर्गत कृषि उत्पादों को बढ़ावा मिले। बांध में पर्याप्त बरसात का पानी आ जाने से अधिकांश समस्याओं का समाधान हो गया है। अब पशुओं के लिए चारे की भी कोई कमी नहीं रहेगी, क्योंकि चार हजार हेक्टयर भूमि रीचार्ज हो गई है।
शराब की दुकान नहींः
सामूहिक प्रयासों का ही नतीजा है कि टापरवाड़ा गांव में शराब की दुकान नहीं है। ग्रामीणों ने शराब नहीं पीने का पहले ही संकल्प ले रखा है। इसी प्रकार गांव में शादी ब्याह आदि के अवसरों पर डीजे का भी उपयोग नहीं होता। गांवों में बच्चों को संस्कारवान बनाने के भी कई कार्य हो रहे हैं। विक्रम सिंह टापरवाड़ा का कहना है कि आज पूरा गांव आत्म निर्भर है। हमने सरकार की योजनाओं का पर्याप्त लाभ उठाया है। गांव के विकास में सरकार का भी पूर्ण सहयोग है। यदि ग्रामीण जागरुक होकर सरकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त करें तो हर समस्या का समाधान हो सकता है। गांव के विकास के बारे में और अधिक जानकारी मोबाइल नंबर 9460752009 पर विक्रम सिंह टापरवाड़ा से ली जा सकती है।

The post अन्ना हजारे के सपने के अनुरूप बना राजस्थान का टापरवाड़ा गांव। appeared first on spmittal.



This post first appeared on News, please read the originial post: here

Share the post

अन्ना हजारे के सपने के अनुरूप बना राजस्थान का टापरवाड़ा गांव।

×

Subscribe to News

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×