Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

वाकई बेहद कठिन है ब्लाग लिखना। भाई सुरेन्द्र चतुर्वेदी का आभार।

#3168
वाकई बेहद कठिन है ब्लाग लिखना।
भाई सुरेन्द्र चतुर्वेदी का आभार।
सोशल मीडिया पर डाले जा रहे ब्लाग और पोस्टों की जब चौतरफा आलोचना हो रही है, तब देश के सुविख्यात साहित्यकार और कवि सुरेन्द्र चतुर्वेदी ने मेरे ब्लाग लेखन पर अपने सटीक विचार प्रकट किए हैं। दीपावली के अवसर पर भाई सुरेन्द्र ने जो लिखा है, उसे मैं ज्यों का त्यों यहां पोस्ट कर रहा हूं। मैं एक बार फिर यह बताना चाहरता हूं कि मेरे ब्लाग रोजाना करीब तीन हजार व्हाटसएप ग्रुप में पोस्ट किए जाते हैं। अकेले अजमेर जिले के करीब एक हजार व्हाटसएप ग्रुप मुझसे जुड़े हुए हंै। राजस्थान के प्रमुख शहरों के एडमिनों ने भी अपने अपने व्हाटसएप गु्रप से मुझे जोड़ रखा है। यही स्थिति देश के हिंदी भाषी शहरों की भी है। आज मेरा फेसबुक पेज बीस-बीस हजार लोगों तक पहुच रहा है। इतना ही नहींं ब्लाग स्पाट पर एक लाख पाठक हैंं इसके अतिरिथ्त वेबसाइट, फोन ऐपिलेकेशन आदि के जरिए भी मेरा ब्लाग कई लाख लोगों तक पहुंच रहा है। जितना कठिन कार्य ब्लाग लेखन का है उतना ही कठिन काम सोशल मीडिया के विभिन्न माध्यमों से लोगों तक ब्लाग पहुंचाना है। चूंकि भाई सुरेन्द्र मुझसे बड़े हैं और सहित्य जगत में उनकी धाक है इसलिए उनके लेखन पर मैं कोई टिप्पणी नहीं कर रहा , ेलेकिन मेरे पाठकों को यह बताना चाहता हूं कि भाई सुरेन्द्र ने देश के बड़े बड़े कवि सम्मेलेनों में भाग ले रहे हंै और शायद ही कोई कवि होगा जिसके साथ मंच साझा न किया हो। भाई सुरेन्द्र ने जो गीत और गजल लिखी हैं उन्हें फिल्म जगत में भी काम में लिया गया है। भाई सुरेन्द्र को साहित्य के अनेक पुरस्कारों से नवाजा गया है। भाई सुरेन्द्र से मोबाइल नं 9829271388 व 9251425388 पर सम्पर्क किया जा सकता है।

ब्लॉग लेखक मित्तल

सुरेंद्र चतुर्वेदी

वैसे तो अजमेर में ब्लॉग लिखने का एक फैशन ही चल निकला है। जिसे देखो ब्लॉग लिख रहा है ।दूध पीते बच्चे भी,,,,, दारु पीते लुच्चे भी ।जिसके हाथ में गलती से भी कलम आ जाती है वह सबसे पहले ब्लॉग लिखता है। ब्लॉग लिखना छुआ छूत की बीमारी है ।जो शुरू होने के बाद जलकुंभी की तरह फैल जाती है। अजमेर में भी ये दिन दूनी रात चौगुनी फ़ैल रही है। ब्लॉग लिखने के लिए जरूरी नहीं कि कोई ठोस विषय हो। बस विषय विकार मिटाओ पाप हरो देवा की तर्ज पर लिखने वाला लिखना शुरु कर देता है।
शहर की सेहत के लिए मैं इसे अच्छी बात मानता हूं ।कम से कम लोगों की भड़ांस तो निकल रही है ।भड़ांस निकालने वाले ब्लॉग लेखकों के अलावा शहर में कुछ सीरियस ब्लॉगर भी हैं। जो बड़ी जिम्मेदारी से सोच समझ कर बात लिखते हैं। वह जानते हैं कि कब किसकी गाय मारनी है और किसका बछड़ा बचाना है। इन में से सर्वश्रेष्ठ ब्लॉगर हैं SP मित्तल साहब।मेरी नज़र में वे दुनिया के सबसे लोकप्रिय ब्लॉग रचियता हैं। अजमेर के जितने भी Whatsapp ग्रुप है इनमें आप मित्तल जी को सर्वव्यापी रूप से देख सकते हैं ।Google से लेकर गली कूचे तक उनकी कला गुलाचे मारती है। राजनीति या रागनीति या कूटनीती या अनीती ।मित्तल साहब देखते ही लिखने को चाह कर भी रोक नहीं पाते ।यही वजह है कि शहर में कोई नई दुकान खोले ।किसी का ट्रांसफर हो जाए। कोई अच्छा या बुरा मामूली सा काम भी कर दे तो मित्तल साहब ब्लॉग लिख देते हैं ।मैं उनको नमन करता हूं ।उनकी कलम शासन प्रशासन है हर रोज के राशन पर चल उठती है।वह राजा को रंक बना देती हैबिच्छु का डंक बना देती है।
मां सरस्वती ने सच में उन्हे ब्लॉग लेखन के लिए ही पैदा किया है। लेकिन यह बात मेरे सिवा कोई नहीं समझ पाया ।पंजाब केसरी भी नहीं।अजमेर केसरी मित्तल ने पंजाब केसरी छोड़ दी। लेकिन ब्लॉग लिखना नहीं छोड़ा ।मेरे जैसा मामूली लेखक होता तो प्राण त्यागने तक पंजाब केसरी नहीं छोड़ता मगर मित्तल साहब मेरे जैसे नहीं ।वे कमाल के व्यक्तित्व हैं।
अमेरिका का ट्रम्प हो या अजमेर का कोई पार्षद वे किसी को भी ब्लॉग में लपेट सकते हैं।
वे भारत-पाक की सीमा पर कहीं होने वाली हलचल पर भी ब्लॉग लिख सकते हैं तो उतार घसेटी की हल चल पर भी। वह कई बार तो शहर की राजनीति ही तय कर देते हैं ।कौन कहां से चुनाव लड़ेगा? कौन जीतेगा ?कौन हारेगा ?कौन कौन कहां कौन सी टीम से खेल रहा है वे सब जानते हैं ।सच में मैं उन्हें सर्व व्यापी ,सर्वश्रेष्ठ ब्लॉग रचियता मंटा हूँ। मेरी अंतिम इच्छा है की वो दिर्गायु हो और ब्लॉग लिखते रहें। अजमेर की वे धड़कन हैं।अन्य ब्लॉग लिखने वालों की वे प्रेरणा हैं। ये बात अलग है कि आज जितने जलकुम्भी ब्लॉगर हैं सब उनकी ही दें हैं।ईश्वर सभी को सद्बुद्धि दे।ॐ नमः शिवाय।
एस.पी.मित्तल) (20-10-17)
नोट: फोटो मेरी वेबसाइट www.spmittal.in
https://play.google.com/store/apps/details? id=com.spmittal
www.facebook.com/SPMittalblog
Blog:- spmittalblogspot.in
M-09829071511 (सिर्फ संवाद के लिए)
================================
M: 07976-58-5247, 09462-20-0121 (सिर्फ वाट्सअप के लिए)



This post first appeared on News, please read the originial post: here

Share the post

वाकई बेहद कठिन है ब्लाग लिखना। भाई सुरेन्द्र चतुर्वेदी का आभार।

×

Subscribe to News

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×