Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

UTTAR PRADESH RATION CARD ONLINE LIST 2016 | HOW TO APPLY

     UTTAR PRADESH ONLINE APPLICATION FOR RATION CARD 2016     

Fresheresult.com

राशन कार्ड एक परिवार में उसके मुखिया के नाम से जारी किया जाता हैं जो की उस परिवार के लिए अवाश्यक और अब तक का सबसे महत्त्वपूर्ण दस्तावेज भी है यह सार्वजानिक वितरण प्रणाली के अनुसार उसके राज्य सरकार द्वारा जारी किया जाता है मुख्य रूप से राष्टीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम में पात्रता सूची के अनुसार उचित मूल्य की दुकानों में खादय सामाग्री ख़रीदने हेतु इस्तेमाल भी किया जाता है भोजन रेखा से ऊपर के परिवार /गरीबी रेखा से निचे जीवन यापन करने वाले परिवार को सस्ते दर में भोजन सर्वाजनिक वितरण प्रणाली अनुसार वितरित किया जाता है जिसमे दाल, चावल, चीनी,  कैरोसिन तेल व कुछ राज्यों में एलपीजी गैस वितरण का प्रावधान है यह भारत के नागरिकों के लिए मूल नागरिकों होने का ठोस प्रमाण भी है जो की अत्यन्त आवशयक भी है 


कृपया ध्यान दे उत्तर प्रदेश राशन कार्ड की सभी प्रक्रार की सूची में यदि आपका नाम शामिल नहीं ही पाया है तभी आवेदन करे, तत्पचात आपकी आवेदन स्वीकार किया जायेगा , सम्बंधित जानकारी हेतु इस वेबसाइट को बुकमार्क करके रखे जिससे की आप को  इस वेबसाइट से  उचित जानकारी मिल सके 

ऑनलाइन राशन कार्ड प्रकिया शुरू की जाएगी तत्पश्चात लिंक सक्रिय हो जायेगा 


Apply Online For Ration Card

राशन कार्ड हेतु ऑनलाइन आवेदन करे

                  उत्तर प्रदेश राशन कार्ड नवीन सूची  2015                 

   राशन कार्ड खोजे (जिला,क्षेत्र ,ग्राम / नगर ,नाम के आधार पर)   

     SMS   सेवा हेतु अपना मोबाइल नंबर अभी पंजीकरण करे       

              राष्टीय खादय सुरक्षा अधिनियम की पात्रता सूची           

पुख्ता प्रमाणपत्र से लाखों लोग होगे वंचित

कोई भी महत्वपूर्ण कार्य करने हेतु पहचान प्रमाणपत्र निवास प्रमाणपत्र की अवष्यकता होती है। और इसके प्रमाण हेतु लोगं राशन कार्ड का उपयोग करते है। लेकिन यह राशन कार्ड कितने ही लोगों के हाथो से छिन जाएगा। पूरे प्रदेश भर में अप्रैल माह से खादय सुरक्षा अधिनियम लागू होन जा रहा है। जिसके के अंतर्गत राशनकार्ड उन्ही लोगों को उपलब्ध कराया जायेगा। जिन्हे राशन की जरूरत है। और खादय सुरक्षा अधिनियम के शर्तो को पुरा करते है। इसी के अनुसार अधिक संख्या में  बीपीएल व एपीएल कार्डधारक के इसके लाभ से बाहर कर दिये जाएंगे। और वह कार्ड के योग्य भी नही पाएंगे ।

इलाहाबाद  मे अनुमान के तौर पर करिब 17 लाख से अधिक कार्ड धारक है। इन पूरे धारको मे केवल 88 हजार कुछ ही अंत्योदय कार्ड धारको की संख्या है। और इन्ही धारको को खादय सुरक्षा अधिनियम में शामिल किया गया है। अभी एपीएल व बीपीएल कार्ड का सत्यापन हो रहा है। जिसमे एपीएल की संख्या करिब 14 लाख व बाकी सभी बीपीएल कार्डधारक है। खादय सुरक्षा अधिनियम के नये शर्तो के अनुसार आधे से अधिक की संख्या में कार्डधारक नई व्यवस्था में लाभ पाने से वंचित हो सकते है। इनकी संख्या का कोइ अनुमान नही है।

खादय सुरक्षा अधिनियम के तहत अब सिर्फ दो प्रकार के ही कार्ड शामिल किये जाएगे। एक अंत्योदय और दूसरे मे अन्य सभी शामिल किये जाएगे।  जो लाभ हेतु खादय सुरक्षा अधिनियम के शर्तो  को पुरा करते हो। और इस प्रकार से हजारो की संख्या मे धारक लाभ पाने से वंचित हो जाएगे अतः उनके पास से राशनकार्ड भी नही रहेगे। इस प्रकार से निवास व अन्य कार्यो को पूरा करने हेतु यह दस्तावेज से उन्हे हाथ धोना पडेगा।

अभी यह कार्य प्रकियाधीन है। यह तो पूर्ण रूप से सत्यापन करने बाद ही मालूम होगे की इस लाभ से कितने लोग वंचित होेगे। सत्यापन करने की कार्य प्रक्रियाधीन है। अभी अनुमानीत तौर पर 35 फिसदी कार्य पूरा हो गया है। अगले कुछ माह तक यह प्रकिया पूरी हेा जाएगी

     नए राशन कार्ड आवेदन हेतु अपने जिले के प्राधिकृत सहज जन सेवा केंद्र से संपर्क करे      
कृपया ध्यान दें नवीन राशन कार्ड के आवेदन हेतु व्यकतिगत रूप से स्वयं ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया बंद की गई है क्योकि अधिक संख्या में लोग गलत प्रकार से आवेदन कर चुके थे । हालांकि ऑनलाइन आवेदन शुरू किया जायेगा । 

नए सूचना व ऑनलाइन आवेदन , सुधार , नाम जोड़ने व अन्य प्रक्रिया इस वेबसाइट से प्राप्त हो सकती है । ताजा जानकारी के लिए फेसबुक पेज लाइक करे । 

खाद्य एवं रसद विभाग, उत्तर प्रदेश 

http://fcs.up.nic.in/upfood/fcsportal/FoodPortal.aspx



This post first appeared on Sarkari Result Sarkari Form Sarkari Naukari Sarkari Exam, please read the originial post: here

Share the post

UTTAR PRADESH RATION CARD ONLINE LIST 2016 | HOW TO APPLY

×

Subscribe to Sarkari Result Sarkari Form Sarkari Naukari Sarkari Exam

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×