Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

सुशांत की हत्या य फिर सुसाइड ??

सुशांत की हत्या य फिर सुसाइड ??

जिस तरह से दिव्य चेतना ने हर एक व्यक्ति को सुशांत की मृत्यु पर उससे जुड़ने के लिये विवश कर दिया वो अपने आप मे हैरान कर देने वाला था !

! कारण ये कि बॉलीवुड को काफी लोग पसन्द नही करते थे और उससे पहले ही ऋषि कपूर फिर इरफान खान की मृत्यु से लोग थोड़े दुःखी थे पर सोशल मीडिया पर वो तूफान य सैलाब सांत्वना का नही दिखा जो सुशांत के केस में दिखा !! सुशांत की मृत्यु आकस्मिक सुसाइड न होकर हत्या हुई है ! जिसमे बॉलीवुड को निशाना बनाकर पोलिटिकल कुत्तों और औधोगिक कुत्तों को बचाया जा रहा है !! सुशांत शिक्षा व्यवस्था को बदलने वाला था और यही बात कॉलेज,स्कूल और शिक्षा व्यवस्था पर पैसा लगाने वाले हरामी गैंग को अपच लगी !

कुछ लोगो को बेशक तकलीफ है कि सुशांत की मृत्यु पर इतना हल्ला क्यों ? तो हल्ला होने के काफी कारण है ! वो एक मात्र ऐसा विद्वान व्यक्ति था जो इतना ज्ञान रखने के बावजूद बॉलीवुड में था ! उसको फ़िल्म के बहिष्कार वालो से घन्टा फर्क नही पड़ता था लेकिन जिस तरह से उसने काफी लोगो को इंटरव्यू जे दौरान अपने 50 लिस्ट को बता दिया , जिक्र कर दिया वही 50 चीजे काल बनकर उसके जीवन मे आ गयी ! कुछ वीडियो देखें जिसके बाद समझ आ रहा है कि वो 5 साल की उम्र के बच्चो को मानसिक तौर पर परिपक्व करना चाह रहे थे ताकि आज की शिक्षा व्यवस्था में जो जबरदस्त बदलाव है

उससे निपटा जा सके। ये बात तो तय है कि शिक्षा व्यवस्था के स्टैण्डर्ड तय करने वाले लोगो ने अपने शासन को बरकरार रखने के लिये ही इस तरह की चीजो को बढ़ावा दिया और जो इनके खिलाफ बोला जैसे राजीव दीक्षित जी व अन्य की हत्या करवा दी गयी ! सुशांत सिंह के तस्वीरों से भी ये नही लगता कि वो हत्या कर सकते है न कि उनके ताजा वीडियो से !! उनके मैनेजर व अन्य लोग की मरने की खबर जो आ रही है वो कितने सही है इसकी आधिकारिक पुष्टि भी नही हो पा रही है ! न मरने की वजह न ही अन्य बातें !! हो सकता है सुशांत के परिवार पर दबाव बनाया जा रहा हो चुप रहने का पर इन चुप्पी पर आम जनता का बस तो रुक नही सकता ! हत्या के दिन के बाद से ही रोज सोशल मीडिया व ट्विटर पर य इंस्टाग्राम पर लगातार उसके मौत की जांच के लिये लोग विनती और आग्रह कर रहे है, श्राप रोजाना दिया जा रहा है और सुशांत के हत्या के बाद काफी लोगो ने अपनी जान भी दे दी है

!! ये दुर्भाग्यपूर्ण है काफी और वर्तमान सरकार से उम्मीद है कि वो इस संकट के समय मे कुछ करे लेकिन आम जनता को मैं बता दूं सलमान,करन, महेश भट जैसे टुच्चे लोगो के लिये बिहार का बेटा ऐसे जान नही दे सकता ! पहले खुद 2 गोली मारता फिर मरता लेकिन न सुशांत का ऐसा स्वभाव बिल्कुल न था ! अंतर्मन से आवाज ये आयी कि पहले जूस में बेहोश की दवा दी गयी और फिर उसे कमजोर करके ही उसके कमरे में आकर उसे रस्सी से मारा गया ! अब कुछ लोग बोलेंगे कि रिपोर्ट में बेहोशी की दवा क्यों नही पता चल सकती तो इसका जवाब आपको कोई डॉक्टर ही दे सकते है य फोरेंसिक रिपोर्ट के एक्सपर्ट पर कोई इस मामले में नही बोलेगा क्योंकि करोड़ो का बिजनेस इस हत्या के पोल खुलने से खत्म य बर्बाद हो जाएगा !! तमाम जनता लोग भी यही बोल रहे है , मैंने काफी ध्यान से लोगो के कमेंट और प्रतिक्रिया देखी और लोग पहले बॉलीवुड वालो पर गुस्सा फोड़ रहे थे शुरू के 4 दिन तक लेकिन जैसे ही सभी वीडियो और फ़ोटो आने शुरू हुए और 50 लिस्ट मिली उससे साफ पता चल गया कि सुशांत का बड़बोलापन, उसका सबकुछ बता देना , सारी बातें सब को बताना ही उसका दुश्मन काल बन बैठा

! 50 उद्देश्यों य इच्छाओं में वो इच्छाएं भी थी जो काफी धन्नासेठों को फकीर बनाने वाली थी और ये सब करना अपनी कुर्सी बचाने के लिये जरूरी भी था ! एक बात तो साफ है ये आप मान लीजिये की बॉलीवुड में पहले भी कई खेमे में बंटा था लेकिन जिस तरह से सुशांत की मौत को बॉलीवुड के कंधों पर रख कर उसे निशाना बनाया जा रहा है वो एक हद तक सही है पर पूरी सच्चाई यही है कि इसमें शिक्षा जगत के लोग उससे न खुश थे , उसके दुश्मन बन गए थे और जिसकी सोच 5 वर्ष की उम्र में कोडिंग सिखाने की हो तो आप सोच सकते है कि स्कूल,प्ले स्कूल और कॉलेज कितने लोगों का नुकसान होता इससे ! हालांकि वर्तमान सरकार बेशक इसमें प्रत्यक्ष रूप से शामिल न हो लेकिन अपनी पोल न खुल जाए इसी डर से ये लोग चुप रहकर बस आश्वासन और सुशांत के घर वालो को सांत्वना और ट्वीट ,पोस्ट करके ही अपनी श्रद्धांजलि दे रहे है !

हम क्या कर सकते है सुशांत के न्याय के लिये ??

अब बेशक उन्हें वापस नही लाया जा सकता लेकिन उनके विचारों को अपने मे शामिल करके , उनके उद्देश्यों में से कुछ अपने उद्देश्य बनाकर वही लड़ाई लड़ी जा सकती है ! बाकी जो जैसे उनके न्याय के लिये लड़ रहे है ! लड़िये ! आवाज उठाइये जब कल आप मरे तो आपको गर्व हो कि आपने किसी के हक के लिये लड़ाई तो लड़ी , अपने ईमान को कम से कम कमीनो की तरह बेचा तो नही !! आप सचमुच वंदना के पात्र है ! नमन है इसे पढ़ने वालों को और नमन है सुशांत के न्याय की मांग करने वालो को 🙏🏻😇

The post सुशांत की हत्या य फिर सुसाइड ?? appeared first on Sach ka Safar.



This post first appeared on Hindi News And Samachar|punjabi News, please read the originial post: here

Share the post

सुशांत की हत्या य फिर सुसाइड ??

×

Subscribe to Hindi News And Samachar|punjabi News

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×