Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

विश्व के 25 सबसे सुंदर शिव मंदिर

विश्व के 25 सबसे सुंदर शिव मंदिर । 25 most beautiful shiva temples

दोस्तों हिंदू धर्म के सर्वप्रथम आराध्य देव शिवजी के सुंदर-सुंदर मंदिर विश्वभर में फैले हुए हैं. उनमें से ही चुनकर हमने सबसे सुंदर शिव मंदिर की यह सूची तैयार की है. इनमें से कुछ मंदिर वास्तुकला के नायाब उदाहरण हैं, तो कुछ ऐतिहासिक दृष्टि से महत्वपूर्ण. सबसे सुंदर मंदिरों की इस सूची में हर मंदिर की अपनी कोई न कोई विशिष्टता हैं. प्रत्येक शिव मंदिर के बारे में हमने संक्षिप्त जानकारी दी है और उस मंदिर के 1-2 मनोरम चित्र भी प्रस्तुत किए हैं.

नोट: दोस्तों यह सूची क्रमवश नहीं है. यह 25 के 25 शिव मंदिर एक से एक सुंदर हैं.

1. पुरू ब्रतन, बाली, इंडोनेशिया

25-most-beautiful-shiva-temples

पुरू ब्रतन इंडोनेशिया के बाली द्वीप पर स्थित एक जल मंदिर है. बेहद ही मनोरम ब्रतन झील के किनारे इस शिव मंदिर को सन 1633 में स्थापित किया गया था. 11 मंजिल ऊंचा यह देवालय शिव और उनकी अर्धांगिनी देवी पार्वती को समर्पित हैं.

2. कैलाशनाथ मंदिर, एलोरा

25-most-beautiful-shiva-temples

एलोरा की गुफाओं में स्थित कैलाश मंदिर विश्व का सबसे बड़ा अखंड मंदिर है जो चट्टान को काटकर बनाया गया है. यह एक विशाल चट्टान को! इस भव्य शिव मंदिर का निर्माण राष्ट्रकूट राजवंश के शाशक कृष्णराज ने आठवीं शताब्दी में किया था.

3. वीरूपक्ष मंदिर, हंपी

25-most-beautiful-shiva-temples

हंपी, कर्नाटक स्थित यह मंदिर शिव के एक रूप, विरूपक्ष को समर्पित है. विजयनगर साम्राज्य के दौरान निर्माण किया गया यह मंदिर 14वीं शताब्दी का है. इस मंदिर की एक विशेष बात यह है कि इसकी रचना गणित की संकल्पनाओं के आधार पर की गई थी. मंदिर का प्रमुख आकार त्रिकोण है.

विजयनगर साम्राज्य की राजधानी हंपी तुंगबध्र नदी के किनारे थी। नदी की एक पतली सी धारा मंदिर की छत के किनारे बहती हुई, मंदिर के रसोई के नजदीक से गुजर आँगन से बाहर निकलती है. (स्रोत)

भगवान महादेव के इस देवालय में विरूपक्ष और पंपा (पार्वती का एक रूप) के विवाह के दिन हर वर्ष श्रद्धालुओं का तांता लग जाता है. प्रतिवर्ष फरवरी माह में यहाँ रथ उत्सव का भी आयोजन होता है.

इस मंदिर से जुड़ी कथा कुछ यूं है:

कुंवारी पार्वती ने यह प्रतिज्ञा कर ली थी कि विवाह तो वो शिव से ही रचाएगी. उन दिनों शिवजी सांसारिक मोह-माया से परे एक तपस्वी का जीवन व्यतीत कर रहे थे. माता पार्वती सभी देवी-देवताओं से विनती करती हैं कि उनकी मदद करें. पार्वती की विनती सुन देवराज इन्द्र कामदेव को यह काम सौंपते हैं.

कामदेव अपना काम-तीर चला शिवजी की तपस्या भंग तो कर देते हैं. लेकिप क्रोधित हो, शिव कामदेव को भस्मित कर देते हैं. माता पार्वती फिर भी टस से मस नहीं होती. वो भी शिवजी की तरह जीवन व्यापन करने लग जाती है। एक तपस्विनी बन जाती हैं.

शिवजी अपना रूप बदल पार्वती से मिलते हैं और उन्हें हतोत्साहित करने का प्रयास करते हैं। उन्हें शिव के व्यक्तिव की कुछ दुर्बलताओं के विषये में जताते हैं. पर माता पार्वती हैं कि मानती ही नहीं है. आखिरकार माता पार्वती के संकल्प के सामने शिवजी विवश हो उनसे विवाह रचाते हैं.

स्थल पुराण के अनुसार यह सभी घटनाएँ हंपी नदी के किनारे घटित हुई थीं.

4. आदियोगी शिव मूर्ति, कोयम्बटूर

25-most-beautiful-shiva-temples

गिनीज़ बूक ऑफ वर्ल्ड रेकॉर्ड्स के अनुसार 34.3 मिटर ऊंची यह आदियोगी शिव मूर्ति दुनिया की सबसे विशाल अर्धप्रतिमा है. ईशा फ़ाउंडेशन के सद्गुरु जग्गी वासुदेव ने स्वयं इस मूर्ति का डिजाइन तैयार किया था. शिवजी की इस प्रतिमा को आदियोगी का नाम इसलिए दिया गया है कि शिवजी को ही सर्वप्रथम योगी माना जाता है. 24 फरवरी 2017 को, महाशिव रात्रि के शुभ दिन प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने इस प्रतिमा का उदघाटन किया था.

5. केदारनाथ मंदिर, उत्तराखंड

25-most-beautiful-shiva-temples

शिवजी का यह ज्योतिर्लिंग गढ़वाल हिमालय में 11,755 फीट की ऊंचाई पर मौजूद है. केदारनाथ मंदिर का निर्माण कब और किसने करवाया, इस पर अभी तक कोई निश्चित जानकारी नहीं है. धार्मिक मान्यता अनुसार नरनारायण के अनुरोध पर महादेव यहाँ आकार एक अवधि के लिए रहे थे.

महाभारत युद्ध के पश्चात पांडव भाइयों ने यहीं पर आ शिवजी से मिल अपने पापों का प्रायश्चित किया था. कई भोलेभक्त यही मानते हैं कि केदारनाथ मंदिर का प्रथम निर्माण पांडवों ने ही किया था.

6. सन्मार्ग ईरइवन मंदिर, हवाई, अमेरिका

25-most-beautiful-shiva-temples

चोला पद्धति पर निर्मित यह सुंदर शिव मंदिर हवाई के कुयई द्वीप पर है. इसे इरईवन मंदिर के नाम से जाना जाता है। इरईवन तमिल भाषा का एक शब्द है, जिसका अर्थ है ‘ईश्वर’.

यह मंदिर अभी भी निर्माणाधीन है, पर जब यह पूर्ण रूप से बन कर तैयार हो जाएगा, तो इसकी शोभा सबसे निराली होगी. मंदिर को वास्तु शास्त्र के नियमों को ध्यान में रख कर बनाया जा रहा है.

7. बृहदेश्वर मंदिर, तंजावूर

25-most-beautiful-shiva-temples

सबसे सुंदर मंदिरों की कोई भी सूची इस मंदिर के बगैर अधूरी ही है. 11वीं शताब्दी में राजा राजा चोला 1 द्वारा इस भव्य मंदिर का निर्माण किया गया था. यह विश्च का अकेला ऐसा मंदिर है जो पूर्ण रूप से ग्रेनाइट से निर्मित है.

8. पशुपतिनाथ मंदिर, काठमाण्डू, नेपाल

25-most-beautiful-shiva-temples

पशुपतिनाथ मंदिर नेपाल की राजधानी काठमाण्डू से थोड़ी दूर बागमती नदी के किनारे मौजूद है. इसे नेपाल का सबसे पवित्र शिव मंदिर माना जाता है. शिव पुराण, अध्याय 11 के अनुसार इस मंदिर के शिवलिंग की पूजा करने वाले की हर मनोकामना पूर्ण होती है. इस मंदिर में केवल पशुपतिनाथ में आस्था रखने वाले लोगों को ही इस मंदिर में प्रवेश करने की अनुमति है.

9. नटराज मंदिर, चिदंबरम

25-most-beautiful-shiva-temples

इस मंदिर में शिव की आराधना नृत्य के देव नटराज के रूप में की जाती है. मंदिर की दीवारों पर आप नाट्य शास्त्र की सभी १०८ करणों की सुंदर नक्काशियाँ देख सकते हैं. इसके गर्भगृह की अनूठी बात यह है कि वहाँ शिवलिंग के स्थान पर शिव की नटराज रूप में मूर्ति है.

नटराज मंदिर के वर्तमान स्वरूप को चोला शाशकों ने 10वीं शताब्दी में निर्मित किया था. यह सुंदर शिव मंदिर तमिल नाडु के चिदम्बरम शहर में स्थित है.

10. सोमनाथ मंदिर, गुजरात

25-most-beautiful-shiva-temples

मान्यता अनुसार शिवजी के 12 ज्योतिर्लिंगों में यह सोमनाथ मंदिर स्थित शिव लिंग प्रथम ज्योतिर्लिंग है. सनातन धर्म के सबसे लोकप्रिय तीर्थ स्थानों में से यह एक है. सोमनाथ मंदिर को विदेशी आक्रमणकारियों ने कई बार ध्वंश किया, पर हर बार इस का भव्य रूप से नवनिर्माण किया गया.

मंदिर का वर्तमान रूप चालुक्य राजवंश की वास्तुकला पर आधारित है। सोमनाथ मंदिर के पुनःनिर्माण में गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल की अहम भूमिका थी.

उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में लगा एक भव्य रजत द्वार पहले सोमनाथ मंदिर में लगा हुआ था.

25-most-beautiful-shiva-temples

सोमनाथ मंदिर का निर्माण ऐसे स्थान पर किया गया था, जहां से अंटार्कटिका महाद्वीप तक, बीच में कहीं भी कोई भूमि नहीं है.

11. लिंगराज मंदिर, भुवनेश्वर

25-most-beautiful-shiva-temples

इस मंदिर में शिवजी को हरिहर रूप में पूजा जाता है. भगवान हरिहर शिव और विष्णु का एक संयुक्त रूप है. 11वीं शताब्दी में बना यह मंदिर कलिंग वास्तु कला का एक सुंदर नमूना है. गैर हिंदुओं का मंदिर में प्रवेश वर्जित है.

12. अरुल्मिगु श्री राजकलियम्मन शीश मंदिर, जोहोर बाहरु, मलेशिया

25-most-beautiful-shiva-temples

शीशे से बना यह खूबसूरत शिव मंदिर मलेशिया की प्रमुख पर्यटक आकर्षणों में से एक है. इसकी दीवारों पर लगे हैं नेपाल से लाये गए 3 लाख रुद्राक्ष.

13. विश्वनाथ मंदिर, खजुराहो

25-most-beautiful-shiva-temples

यह मंदिर विश्वनाथ, मतलब शिव को समर्पित है. मंदिर को चंडेल राजवंश के एक शाशक दंग ने 10वीं शताब्दी में निर्मित करवाया था.

14. मुरुदेश्वर मंदिर, कर्नाटक

25-most-beautiful-shiva-temples

मुरुदेश्वर महादेव के सहस्र नामों में से एक है. मुरुदेश्वर मंदिर के प्रवेश स्थान पर जो विशाल गोपुरम है, वो एक बीस तल्ले की अट्टालिका जैसा है। करीब 237 फीट ऊंचा! इस मंदिर की एक अद्वितीय बात यह है कि इस मंदिर के तीन ओर अरब सागर है.

25-most-beautiful-shiva-temples

मुरुदेश्वर मंदिर की शिव मूर्ति विश्व की दूसरी सबसे लंबी शिव मूर्ति है. 123 फीट ऊंची. गोपुरम के अंदर लिफ्ट से ऊपर चढ़कर मूर्ति का एक खूबसूरत नजारा ऊपर से देख सकते हैं.

15. शोर टेंपल (समंदर तट पर स्थित मंदिर), महाबलीपुरम

25-most-beautiful-shiva-temples

इस मंदिर का यूं नाम इसलिए पड़ा कि यह ठीक बंगाल की खाड़ी पर स्थित है. पल्लव राजवंश के राजा नरसिंहवर्मन 3 के शाशन काल के दौरान, 8वीं शताब्दी में इस मंदिर का निर्माण किया गया. कुल तीन मंदिर हैं.

इनमें से जो प्रमुख मंदिर है वो पूर्वी दिशा की ओर मुख है, और उसका इस तरह से निर्माण किया गया है कि सूर्य की किरणें शिव लिंग पर पड़ें.

25-most-beautiful-shiva-temples

16. कोटिलिंगेश्वर मंदिर, कर्नाटक

25-most-beautiful-shiva-temples

कर्नाटक के कोलार जिले में स्थित कोटिलिंगेश्वर मंदिर प्रसिद्ध है अपने विशाल शिव लिंगों के लिए. सबसे ऊंचा शिव लिंग 108 फीट लंबा है.

17. शिवडोल, शिवसागर, असम

25-most-beautiful-shiva-temples

शिवडोल का निर्माण अहोम राजा स्वर्गदेव शिव सिंह की रानी अंबिका ने सन 1734 में बनवाया था. मंदिर शिवसागर नामक एक मानव निर्मित झील के किनारे है. झील की एक अनोखी बात है, कि झील के जल का स्तर शिवसागर नगर के स्तर से ऊंचा है.

18. शिव मंदिर, अंबरनाथ

25-most-beautiful-shiva-temples

अंबरनाथ के शिव मंदिर का निर्माण सन 1060 में हुआ था. मंदिर को पत्थरों को तराश कर बनाया गया है. अनूठी बात यह है कि यहाँ का गर्भगृह जमीनी स्तर के नीचे है, पर ऊपर खुला गगन है. गर्भगृह तक पहुँचने के लिए आपको 20 सीढ़ियाँ नीचे उतरना पड़ता है.

19. तुंगनाथ मंदिर, उत्तराखंड

25-most-beautiful-shiva-temples

क्या आप जानते हैं कि शिवजी के कुल पाँच केदार मंदिर हैं? – जिनमें से केदारनाथ मंदिर सबसे लोकप्रिय है. उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग जिला में स्थित तुंगनाथ मंदिर पांचों केदार मंदिरों में से सबसे अधिक ऊंचाई पर मौजूद है. शायद विश्व का सबसे ऊंचा शिव मंदिर है। यह 12,073 फीट की ऊंचाई पर है.

20. कंदरिया महादेव मंदिर, खजुराहो

25-most-beautiful-shiva-temples

खजुराहो के सभी मंदिरों में यह मंदिर सबसे विशाल और सुंदर है. मध्ययुगीन काल के मंदिरों में से यह सबसे अच्छे से संरक्षित मंदिर है.

21. अरुणाचलेश्वर मंदिर, तिरुवन्नमलाई

25-most-beautiful-shiva-temples

यह शिवजी के पंचभूत स्थल में से एक है. अरुणाच



This post first appeared on News Mug, please read the originial post: here

Share the post

विश्व के 25 सबसे सुंदर शिव मंदिर

×

Subscribe to News Mug

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×