Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

बतख पर कविता – Poem on duck in hindi

बतख पर कविता – Poem on duck in hindi

बतख पर कविता - Poem on duck in hindi

Batakh Poem Hindi | Duck Song | Hindi Rhymes For Children | हिंदी बालगीत

आंगन में है मेरे एक छोटा सा तालाब
जिसमें तैरते है बतख पक पक पक
छोटे छोटे पैरों पर आंगन में चलते
पक पक पक अपने दोस्तों को बुलाते


देखो बतख कितनी प्यारी हैं
सूरत इसकी सबसे न्यारी हैं
आँखो मे इतना भोलापन हैं
अदाओ मे शरारतीपना हैं

जल मे ये रहती हैं
ख़ुशी मे ये झूमती हैं
थोड़ा थोड़ा वो उडती हैं
चोच उसकी सुन्दर दिखती हैं

पौधों व जीवों को खाती हैं
जल मे विचरण करती जाती हैं
शात वो नजर आती हैं
बच्चो का मन मोह ले जाती हैं

देखो बतख बहुत ही भाती है
जल में उछलती कूंद्ती जाती है
ये बहुत ही प्यारी है
सूरत इसकी सबसे न्यारी है


पानी पर बतख
सुन्‍दर
तैर रहे हैं

पार नही होना हैं
अपने कुटुम्‍ब के साथ घूमना-फिरना हैं
रोजी-रोटी जुटाना हैं
और दरिया का मन बहकाना हैं

मेल फिमेल को रिझा रही हैं
और नर मादा पर प्‍यार बरसा रहा हैं
पानी पर बतख सुन्‍दर तैर रहे है

झील लहरो की रस्‍सी से
आसमान झूल रही हैं
पानी तरलता के रियाज़ मे हैं !

# duck Poem in hindi # duck Kavita in hindi

  • खेजड़ी पर कविता और उनका सार
  • जल पर कविता : हमे जलाशय लगते प्यारे

दोस्तों प्यारे नन्हें पक्षी बतख पर दी गई कविताएँ आपकों कैसी लगी, Poem on duck in hindi का  लेख अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे.

The post बतख पर कविता – Poem on duck in hindi appeared first on HiHindi.Com.



This post first appeared on Hihindi, please read the originial post: here

Share the post

बतख पर कविता – Poem on duck in hindi

×

Subscribe to Hihindi

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×