Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

क्या होम लोन का प्री-पेमेंट(पूर्व भुगतान) चाहिये?

home loan prepayment के लिए इमेज परिणाम
HOME LOAN PRE-PAYMENT 
मंगलेश राव, क्लस्टर हेड-सेवा गृह ऋण
यदि आपका पुराने निवेश से अथवा सालाना बोनस अथवा अन्य किसी माध्यम से एकमुश्त पैसा आता हैं और आपके मन में यह सवाल उठता हैं की या मुझे होम लोन का प्री-पेमेंट करना चाहिये तो यह सवाल सच में लाजमी हैं ! ज्यादातर लोगो की यही मानसिकता होती हैं की एक मुश्त आयी हुई रकम को अपने वर्तमान के ऋणों से मुक्ति के सिवा और ज्यादा अच्छा रास्ता कोई नहीं हैं !इसकी मुख्य वजह हम भारतीयों के लिए ऋण एक तनाव हैं ऐसी मान्यता सभी ने बना रखी हैं ! वेसे ऋण से मुक्ति एक अच्छा प्लान हैं किन्तु इसमें थोड़ी समझदारी की जरूरत हैं तो आईये जानते हैं कुछ पहलु जिन परीस्थितियों में लोन का प्री-पेमेंट नहीं करना चाहिये !
1.       क्या आपको लोन चुकाने का तनाव हमेशा हैं?
यदि आपको होम-लोन या किसी और ऋण का का तनाव अत्यदिक है व यह सच में आपको परेशान करता रहता है! तो आपको उसका प्री पेमेंट कर देना चाहिए। ऐसी परीस्थिति में जैसे ही आपके पास अतिरिक्त पैसा आता हैं तो आप किसी भी हाल में ऋण का प्री पेमेंट करना चाहते हैं,और यह नहीं ध्यान रखते कि यह निर्णय सही है या गलत!किन्तु मेरी माने तो यह रास्ता सही नहीं है! कभी भी जल्दबाजी में कोई निर्णय न लें तो ही बेहतर हैं ! मानसिक तनाव के विषय में यह पुख्ता कर ले की यह सिर्फ आपका ऋण के लिए भय हैं ?
क्या यह सिर्फ एक डर है कि कल नौकरी या रोजगार रहेगा या नहीं? यदि आय का स्रोत नहीं रहा तो क्या होगा या वास्तव में क्या आप शांत दिमाग से बनाई गई लोन चुकाने की योजना के तहत प्लानिंग कर रहे हैं? वैसे लोन का बोझ न होना हमेशा अच्छी परीस्थिति होती है, लेकिन जल्दबाजी में कोई निर्णय लेना भी गलत हैं !
2.       टेक्स की छुट के विषय में सोचे !
होम लोन सभी को दो प्रकार के टैक्स लाभ लाभ देता हैं ! एक ब्याज के ऊपर और दूसरा प्रकार मूल राशी अर्थात प्रिंसिपल पर! होम लोन के ब्याज पर आयकर अधिनियम की सेक्शन  24-बी  के तहत 2 लाख रुपए तक की छूट और प्रिंसिपल पर सेक्शन- 80सी के तहत 1.5 लाख रुपए की छूट प्राप्त होती है! आपके प्रिंसिपल बेनिफिट का फायदा धरा 80सी में 1.5 लाख रुपए दोगुना हो जाती है!
इसका तात्पर्य है कि यदि आपका लोन पति या पत्नी के साथ मिल्लकर लिया है तो आप दोनों को अपने-अपने टैक्स में 1.5 लाख रुपए का फायदा मिलता है! इसी तरह ब्याज की सीमा भी आपको 2 लाख रुपए तक व्यक्तिगत तौर पर मिल जाती हैं ! तो इन फायदों को ध्यान में रखने के बाद ही होम लोन का पूर्व भुगतान करना लाभदायक रहेगा। इस गणना के फायदे को ध्यान में रखने पहले प्री-पेमेंट का मन न बनाये!

3.       नगदी की कमी को नजरअंदाज न करे !
हमेशा ध्यान रखे आपके होम लोन का प्री पेमेंट के बाद आप आपके पास की जमा नगद रकम ख़त्म कर देंगे! ऐसी स्थिति में भविष्य में समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है! कोई भी वर्तमान में भविष्य के हालात अथवा परिस्थिति का आकलन  नहीं नहीं कर सकता! इस लिहाज से किसी विकट स्थिति का सामना करने के लिए हमेशा कुछ नकद रकम पास में होना ही चाहिए! इसलिए उचित यही होगा कि होम लोन का प्री पेमेंट करने से पहले भविष्य की जरूरतों और उसके लिए इंतजाम पर सूक्ष्मता से विश्लेषण कर लेना आवश्यक हैं!

4.       लोन रिकवर करने का सबसे उत्तम उपाय क्या हैं?
लोन की किस्त के 10% के बराबर एक SIP( सिस्टेमेटिक इंवेस्टमेंट प्लान) शुरू करके आप अपनी सम्पूर्ण किश्तों को रिकवर कर सकते हैं! जिससे आपके इस इन्वेस्टमेंट से ऋण चुकाने का बोझ थोड़ा कम हो जाएगा!

 

यह लेख अवश्य पढ़े ---घर बनाना हुआ आसान-अब ले सकते हैं PF खाते से लोन


आप कभी भी होम लोन का प्री पेमेंट करने में जल्दबाजी न करे! यदि आप इसे मानसिक तनाव समझते हैं या फिर लोन को खराब रूप में देखते हैं तो जरा सोचें कि जो घर आपने बनाया या खरीदा है क्या वह आप खरीद पाते? यदि मौजूदा होम लोन आसानी से उपलब्ध नहीं होता तो? लोन हमेशा एक अच्छी योजना होती हैं बशर्ते हम उसे किस नजर से देखते हैं !लेकिन कर्ज मुक्त होना भी सबसे अच्छा विकल्प हैं यदि आपके पास पर्याप्त धन हैं और उपर उल्लेखित सभी बिन्दुओ पर आपने गोर किया हैं तो ! यकीनन कर्ज मुक्त एक प्रकार से आर्थिक आजादी हैं लेकिन इस आजादी को सही तरीके से और योजनारूप में प्राप्त करे!

अधिक जानकारीयुक्त लेख पढने के लिएयहाँ क्लिक करे !




This post first appeared on GET LOAN WITHOUT INCOME PROOF WITHIN 7 DAYS, please read the originial post: here

Share the post

क्या होम लोन का प्री-पेमेंट(पूर्व भुगतान) चाहिये?

×

Subscribe to Get Loan Without Income Proof Within 7 Days

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×