Get Even More Visitors To Your Blog, Upgrade To A Business Listing >>

Meri Tasveer Mein Rang Aur Kisika To Nahi. / मेरी तस्वीर में रंग और किसी का तो नहीं,

मेरी तस्वीर में रंग और किसी का तो नहीं,
घेर ले मुझको सब आँखें मैं तमाशा तो नहीं ।

ज़िन्दगी तुझसे हर एक सांस पे समझौता करूँ,
शौक जीने का है मुझको मगर इतना तो नहीं ।

रूह को दर्द मिला दर्द को आँखें ना मिली,
तुझको महसूस किया है तुझे देखा तो नहीं ।

सोचते सोचते दिल डूबने लगता हैं मेरा,
ज़हन की तय में ‘मुज़्ज़फ़र’ कोई दरीया तो नहीं ।

  • Muzaffar Warsi.
  • Lata Mangeshkar.


This post first appeared on Bazm-E-Jagjit, please read the originial post: here

Share the post

Meri Tasveer Mein Rang Aur Kisika To Nahi. / मेरी तस्वीर में रंग और किसी का तो नहीं,

×

Subscribe to Bazm-e-jagjit

Get updates delivered right to your inbox!

Thank you for your subscription

×